Published On : Fri, Jul 23rd, 2021

लगातार बारिश से सिटी सराबोर, मौसम भी हुआ कूल, कूलर हुए बंद

नागपुर: पिछले 2 दिनों से हो रही लगातार बारिश ने अब उमस से उबलती सिटी को पूरी तरह सराबोर कर दिया है. लगातार बारिश के चलते मौसम भी कूल-कूल हो गया है और लोगों के घरों के कूलर अब दोबारा बंद हो गए हैं.

बुधवार को दिनभर बारिश हुई थी और गुरुवार की सुबह 8.30 बजे तक सिटी में 36.2 मिमी बारिश दर्ज की गई. दूसरे दिन गुरुवार को भी सुबह से दोपहर तक को रुक-रुक कर बौछारें ही पड़ती रहीं लेकिन फिर दोपहर करीब पौने 2 बजे से धुआंधार बारिश का सिलसिला शुरू हो गया.

फिर तो लगातार कभी तेज और कभी हल्की बारिश का सिलसिला चलता ही रहा. मौसम विभाग ने रात 8.30 बजे तक सिटी में 54.2 मिमी बारिश दर्ज की थी. बारिश के चलते तापमान में भी कमी आई है. सिटी का अधिकतम तापमान 31.6 डिसे और न्यूनतम तापमान 24.4 डिसे दर्ज किया गया.

कई जगहों पर भरा पानी
बारिश के चलते सिटी के कई चौराहे तालाब बन गए. वेराइटी चौक, मानेवाड़ा चौक, झांसी रानी चौक सहित कुछ चौराहों में पानी भरा देखा गया. वहीं नरेन्द्रनगर आरयूबी फिर एक बार जलमग्न हो गया. छत्रपति चौक से नरेन्द्रनगर की ओर जाने वाली दिशा में आरयूबी में पानी भर जाने से वाहन चालकों को दिक्कतों का सामना करना पड़ा. इसके अलावा लोहापुल सीताबर्डी के नीचे भी पानी भरने से दिक्कतें हुईं. कई सड़कों और गलियों में जल निकासी व्यवस्था चोक हो जाने के चलते पानी भर गया. कुछ मैदानों, खाली प्लॉट्स और निचले इलाकों में बस्तियों में भी पानी घुसने की खबर मिली.

नाले की दीवार गिरी
लगातार बारिश से नालों में भी उफान आ गया है. पानी के तेज बहाव से मिट्टी कटने के चलते हजारी पहाड़ नाले की दीवार ध्वस्त हो गई. इससे रचना शयनतारा सोसाइटी में नाले का पानी घुसने की खबर मिली. कई बस्तियों में और खाली मैदानों पर तो बुधवार से ही पानी भरा हुआ है. सिटी से सटी कई नई बस्तियों में सड़कों में पानी जमा होने के चलते लोगों को आने-जाने में परेशानी हो रही है. वर्धा रोड पर स्नेहनगर के समीप पेट्रोल पंप के पास एक पेड़ भी धराशायी हो गया.

नदी-नालों में उफान, तालाब
लबालब 2 दिनों की लगातार बारिश के चलते सिटी और ग्रामीण भागों में भी नदी-नाले उफान पर हैं और तालाब भी लबालब हो गए हैं. फुटाला, अंबाझरी, सोनेगांव तालाबों का जलस्तर बढ़ गया है. जिले में 31 जुलाई तक औसतन 519 मिमी बारिश होती है और अब तक यानी 22 जुलाई तक 413 .21 मिमी बारिश जिले में हो चुकी है. पूरे जिले में बारिश होने से अब किसानों के चेहरों में खुशी देखी जा रही है. जिले सहित पूरे विदर्भ में सिंचाई प्रकल्प भी लबालब हो गए हैं. 11 तालाब तो ओवरफ्लो होने की खबर है. जिले के पेंच नवेगांव खैरी और तोतलाडोह से तो पानी छोड़ना पड़ा है.

भारी बारिश की चेतावनी
मौसम विभाग ने आगामी 24 घंटों में सिटी सहित जिले के कुछ भागों में भारी बारिश की चेतावनी दी है. विभाग ने संभावना जताई है कि 23 व 24 जुलाई को सिटी में भारी बारिश होगी. वहीं 25 और 26 जुलाई को भी बदराया मौसम बना रहेगा और 1-2 स्पैल की बारिश हो सकती है. 27 और 28 जुलाई को भी अमूमन बदली भरा मौसम होगा और तेज हवाओं के साथ बारिश भी हो सकती है.

अकोला में सर्वाधिक जिला बारिश (मिमी में)
अकोला 202.9 अ
मरावती 13.0
बुलढाना 17.0
ब्रम्हपुरी 66.2
चंद्रपुर 35.4
गड़चिरोली 3.0
गोंदिया 7.0
वर्धा 25.0
वाशिम 21.0