Published On : Sat, Mar 2nd, 2019

विकास के लिए तरस रहा बालउद्यान गार्डन

पश्चिम नागपुर कांग्रेस अल्पसंख्यक विभाग ने किया तीव्र आंदोलन

नागपुर: विकास के लिए तरस रहे 40 एकड़ में बने नागपुर के सबसे पुराने गार्डन बालउद्यान गार्डन जो वन विभाग फारेस्ट डिपार्टमेंट के अंतर्गत आता है, की बदहाल स्थिति को लेकर कांग्रेस कार्यकर्ताओं में विरोध प्रदर्शन किया. पश्चिम नागपुर कांग्रेस कमेटी अल्पसंख्यक विभाग के अध्यक्ष रिज़वान खान रूमवी के नेतृत्व में शहर कांग्रेस अध्यक्ष विकास ठाकरे नगरसेवक कमलेश चौधरी शहर कांग्रेस अल्पसंख्यक अध्यक्ष इरशाद अली के मार्गदर्शन में यह आंदोलन हुआ.

पहले यहां बच्चों के लिए झूले थे पर अब निकाल दिए गए हैं. बाल उद्यान गार्डन में कुल 3 से 4 गार्डन है, लेकिन सिर्फ एक ही चालू है बाकी के गेट बंद हैं. साथ ही देख रेख के आभाव में गार्डन में बढ़ती अश्लीलता के करण यहां पहुँचनेवाले पारिवारिक लोगों शर्मिंदगी महसूस करते हैं.

परिसर की साफ सफाई कभी नहीं होती, शौचालय पूरे तरीके से टूट चुके हैं. शौचालयों की भी साफ-सफाई कई वर्षों से नहीं हुई है. गार्डन में कुल 10 से 12 शौचालय हैं लेकिन सभी शौचालय बंद हो चुके हैं.

मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस और केंद्र मंत्री नितिन गडकरी के शहर नागपुर में दिया तले अंधेरा होने का आरोप इस दौरान लगाया गया.

आंदोलन में प्रमुख रूप से नईम खान, अब्दुल रशीद, फैजल खान, अजसटन जॉन, आशीष धरडे, जुबेर शेख, मो. शाहिद बंटू , युगल विदावत, विश्वनाथ देशमुख, दुर्गा लाहोरी, गुड्डू नेताम, मोईन शेख, आरिफ शेख, इरशाद शेख, सतीश तबाने, प्रज्वल शिंदे, सैयद मोहसीन, सैयद नाजिम, तौफीक शेख, सहित क्षेत्र के नागरिक गण एवं पदाधिकारी कार्यकर्ता उपस्थित थे.