Published On : Wed, Nov 27th, 2019

बच्चों ने समझा और समझाया विज्ञान शुरू हुआ अपूर्व विज्ञान मेला – 2019

नागपुर: एसोसिएशन फॉर रिसर्च एंड ट्रेनिंग इन बेसिक सायंस एजुकेशन (एआरटीबीएसई) और नागपुर महानगर पालिका के संयुक्त तत्वावधान में अपूर्व विज्ञान मेला का उद्घाटन राष्ट्रभाषा परिसर में हुआ। महापौर संदीप जोशी ने फीता काटकर शुभारंभ किया। उपमहापौर मनीषा कोठे, स्थाई समिति सभापति प्रदीप पोहाणे और एआरटीबीएसई के सचिव सुरेश अग्रवाल विशेष अतिथि थे।

महापौर ने विज्ञान शिक्षा की ओर किये जा रहे प्रयोग अपूर्व विज्ञान मेला की प्रशंसा की। साथ ही अधिकारियों के जल्द ही रिपोर्ट सौंपने को कहा जिससे इस मेले को और भी व्यापक रूप दिया जा सके। और मनपा शालाओं के विद्यार्थियों तथा शिक्षकों को और भी बेहतर अवसर प्राप्त हो सके।

इस अवसर पर वरिष्ठ नगरसेवक सुनील अग्रवाल, नगर सेवकगण संजय बंगाले, उज्जवला शर्मा, रूपा राय, सुनील हिरणवार, राज्य विज्ञान शिक्षण संस्था नागपुर के संचालक रवींद्र रमतकर, सहायक शिक्षणाधिकारी राजेंद्र सुके और कुसुम चाफलेकर,शाला निरीक्षक संजय दिघोरे, प्राचार्य संध्या मेडपल्लीवार, सीनियर साइंस कम्युनिकेटर (कोलकाता) कृष्नेन्दु चक्रवर्ती, शिक्षाविद् राजाराम शुक्ला, ओमप्रकाश मिश्रा, मनपा मेला समन्वयक प्राचार्य राजेंद्र पुसेकर प्रमुखता से उपस्थित थे।

अतिथियों ने मनपा शालाओं के बच्चों द्वारा प्रदर्शित प्रयोगों का निरीक्षण किया। विज्ञान समझने के इस तरीके को क्रांतिकारी कदम बताया और कहा कि प्रयोगों के जरिये विज्ञान के नियम सिखाना उपयोगी है। मेला सभी लोगों के लिए ज्ञानवर्धक है। बच्चों ने जिस तरीके से प्रयोगों को समझाया, उसे देखकर काफी आश्चर्य हुआ।

एक ओर बच्चे विज्ञान की अवधारणाएं प्रयोगों के माध्यम से समझा रहे थे, तो वहीं दूसरी ओर देश भर से आये डेलिगेट्स भी अपनी विशेषताओं के साथ ध्यान आकर्षित कर रहे हैं। आलम्स हाइड्रोपोनिक्स, फन फिजिक्स, ओरिगामी एंड क्रीगामी मेथमेटिकल टायस, अंधश्रद्धा निर्मूलन समिति, एकलव्य प्रकाशन की किताबों का भी लोगों ने आनंद लिया। साइंस क्विज के स्टाल पर बच्चों ने खासी दिलचस्पी दिखाई। यहां बच्चों से विज्ञान संबंधी प्रश्न पूछे गये।