Published On : Thu, Aug 1st, 2019

मुख्यमंत्री की महाजनादेश यात्रा की हुई शुरुवात, नागपुर मे जोरदार स्वागत की तैयारी : संजय बंगाले

नागपुर: महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस की महाजनादेश यात्रा मोझरी से 1 अगस्त से यानी आज से शुरू हो चुकी है. इस दौरान केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने मोझरी में यात्रा को हरी झंडी दिखाई. इस दौरान यह यात्रा 18 जिलों में से होकर गुजरेगी. सभी भाजपा के नेताओ, कार्यकर्ताओ और पदाधिकारीयो में इस महाजनादेश यात्रा को लेकर काफी उत्सुकता है. इस यात्रा के बारे में नगरसेवक संजय बंगाले ने जानकारी देते हुए बताया की आज से इसकी शुरुवात हो चुकी है. कल यह यात्रा नागपुर शहर पहुंचेगी.

चिंचभुवन से होते हुए यह यात्रा लोकमत चौक, झाँसी रानी चौक, वेरायटी चौक में पहुचेगी. जहां मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस का सत्कार किया जाएगा. उन्होंने कहा की पिछले 5 साल में मुख्यमंत्री फडणवीस ने जो ऐतिहासिक भूमिका निभाई है और किए गए विकासकार्यों को लेकर जनता से आर्शीवाद लेने के लिए यह यात्रा निकाली जा रही है. वसंतराव नाईक, सुधाकरराव नाईक के बाद फडणवीस ही ऐसे मुख्यमंत्री है जिन्होंने अपना कार्यकाल अच्छे तरीके से पूरा किया है. इस दौरान उनके सामने कई विषय आए और कई समस्या आयी है. लेकिन समस्याओ को मात देते हुए उन्होंने उसका हल निकाला. इस सरकार पर किसी भी तरह का दाग नहीं लगा है.

देवेंद्र फडणवीस पहले ऐसे मुख्यमंत्री है जिनपर विपक्ष ने और जनता ने किसी भी तरह से आरोप नहीं लगाए है. 5 साल सरकार व्यवस्थित चलाने के बाद फिर से एक बार मैदान में उतरने के लिए किये गए सभी विकासकार्य जनता को बताने के लिए यह यात्रा निकाली जा रही है. यह यात्रा तीन टप्पे में निरंतर चलेगी. ढाई हजार किलोमीटर का सफर इस दौरान किया जाएगा. 166 विधानसभा से यह यात्रा जाएगी. मुख्यमंत्री पुरे 25 दिन रथ पर रहनेवाले है. जहां यात्रा रुकेगी वहा सभा आयोजित होगी. इस दौरान वे लोगों से बाते भी करेंगे.

उनके द्वारा किए गए 5 साल के प्रयास की बात भी वे जनता को बताएंगे. राज्य की जनता के लिए मुख्यमंत्री ने काफी कुछ किया है. उन्होंने महाराष्ट्र में इंफ्रास्ट्रक्चर डेवेलपमेन्ट, इंडस्ट्रियल बढ़ोतरी, सिंचाई का विकास के साथ ही हमारे आरक्षण के काफी महत्वपूर्ण प्रश्न थे. आरक्षण के लिए मराठा समाज आंदोलन कर रहा था. शरद पवार, नारायण राणे ने कोशिश करके देख ली. लेकिन यह मुद्दा हल नहीं हो सका.

लेकिन देवेंद्र फडणवीस ने इस मुद्दे को कानून के अनुसार इसका हल निकाला. आज मराठा समाज को आरक्षण का लाभ मिल चूका है. धनगरो के 22 विषयो का प्लानिंग किया गया है. वह समस्या भी दूर की गई है. महाराष्ट्र में रहनेवाले सभी समाज के शिक्षा से जुड़े कार्य मुख्यमंत्री ने हल किए है. महाराष्ट्र की जनता मुख्यमंत्री से काफी खुश है. इस सरकार के सामने विपक्षी पार्टियां झुक चुकी है. सभी विपक्षी पार्टियों के नेता भाजपा में आना चाहते है. जिस तरह से विपक्षी पार्टियों का हाल हो रहा है ऐसा लगता है मानों चुनाव केवल भाजपा और शिवसेना ही लड़ रही है.