Published On : Sun, Apr 9th, 2017

जब टीवी एंकर ने पढ़ी अपने पति की मौत की ब्रेकिंग न्यूज

महासमुंद/रायपुर:  एमपी/सीजी के निजी रीजनल न्यूज चैनल की एंकर शनिवार सुबह लाइव प्रसारण की रायपुर न्यूज रूम से खबरें पढ़ रही थीं। तभी चैनल ने महासमुंद के पिथौरा में भीषण सड़क हादसे की खबर ब्रेक की। कुछ ही मिनट के अंदर एंकर ने ब्रेकिंग न्यूज को पढ़ना शुरू कर दिया। महासमुंद रिपोर्टर को लाइव अपडेट के लिए एंकर से फोन पर बात करने कहा गया। तब तक एंकर, न रिपोर्टर और न ही चैनल को इस बात की खबर थी कि 3 मृतकों में एंकर के पति भी हैं।

30 मिनट का बुलेटिन खत्म हो गया। अगले बुलेटिन में मृतकों के नाम चैनल की इनपुट डेस्क तक पहुंचे, तब भी एंकर खबरें पढ़ रही थी। इनपुट हेड ने इन नामों को एंकर तक जाने से तत्काल रोकने का निर्णय ले लिया, क्योंकि वे न सिर्फ एंकर के पति को जानते थे, बल्कि इस हादसे में घायल 2 अन्य युवकों में उनका भाई भी था।

घटना शनिवार सुबह 7.30 बजे की है। पिथौरा एनएच-53 पर तेज रफ्तार कार और ट्रक के बीच टक्कर होने से कार सवार 3 युवकों की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। मरने वालों में निजी चैनल की एंकर सुप्रीत कौर के पति हर्षद गावड़े (30) भी थे। सुप्रीत रोजाना की तरह न्यूज रूम में लाइव प्रसारण के लिए बैठ चुकी थीं।

उन्होंने अपना फोन न्यूज रूम के बाहर रख दिया था, जिसमें लगातार आधे घंटे तक घटना की सूचना देने कॉल आ रहे थे। इससे अनजान सुप्रीत ने घटना की पूरी खबर पढ़ी, रिपोर्टर से लाइव बातचीत भी। घटना की सूचना बुलेटिन खत्म होने के बाद सुप्रीत को दी गई। बताया कि हर्षद सड़क हादसे में घायल हुए हैं, वे अस्पताल में भर्ती हैं। तत्काल सुप्रीत के साथ चैनल के अन्य दो सहकर्मियों को महासमुंद के लिए रवाना किया गया। रास्तेभर सुप्रीत को धैर्य बंधाया जाता रहा। लेकिन वे परिस्थितियों को देखते हुए अनहोनी का अंदाजा लगा चुकी थीं।

जैसा चैनल रिपोर्टर ने मीडिया को बताया- इनपुट डेस्क इंचार्ज विकास सिंह के भाई विवेक भी हादसे में घायल हुए थे। विकास ने बहुत समझदारी और तत्परता दिखाते हुए मृतकों के नाम फ्लैश होने से रोक दिए। रिपोर्टर के मुताबिक ढाई साल पहले सुप्रीत-हर्षद ने प्रेम विवाह किया था।

मीडिया  को एंकर सुप्रीत के साथ काम करने वाली सहयोगी ने बताया कि न्यूज रूम में लगी स्क्रीन पर विजुअल चलते हैं। एंकर उसे देखकर भी न्यूज पढ़ते हैं। विजुअल आ चुके थे, लेकिन उसे भी ऑन एयर नहीं किया गया। हालांकि महासमुंद रिपोर्टर ने डस्टर कार का जिक्र किया तो अनहोनी की आशंका जरूर हुई, लेकिन वह न्यूज पढ़ती रही।

न्यूज रूम के बाहर चैनल की पूरी टीम को हर्षद की मौत की खबर मिल चुकी थी। जब सुप्रीत बाहर आई तो न्यूज रूम का माहौल सामान्य था, कोई भी उसे घटना का आभास होने नहीं देना चाहता था। उसने पूछा भी क्या हुआ? सबने कहा हर्षद घायल है। तत्काल उसे पिथौरा रवाना किया गया। सुप्रीत के जाने के बाद विजुअल ऑन-एयर किए गए।

कार के परखच्चे उड़ गए

5 युवक डस्टर कार, सीजी 04 एलबी 5111 में सवार होकर रायपुर से सराईपाली की ओर निकले थे। इसी दौरान उनकी तेज रफ्तार कार, ट्रक से जा टकरा गई। टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि कार के परखच्चे उड़ गए। हादसे में कार सवार हर्षद गावड़े (30) पिता अभय गावड़े (दुर्ग ), निशांत वकील (28) पिता चंद्रशेखर वकील हुडको, गौरव साहू (30) पिता प्रेमशंकर साहू कसारीडीह (दुर्ग) ने घटनास्थल पर ही दम तोड़ दिया। गौरव के पिता प्रेमशंकर साहू दुर्ग सांसद ताम्रध्वज साहू के पीए हैं। कार में सवार 2 अन्य युवकों में सौरभ यादव (24) पिता भोजराम यादव भिलाई, विवेक सिंह (32) पिता वीरेंद्र प्रताप सिंह प्रगति नगर भिलाई के रहने वाले हैं। घायलों को उपचार के लिए पिथौरा में भर्ती कराया गया था। पुलिस ने अज्ञात वाहन चालक के विरुद्ध धारा 279, 337, 304-ए के तहत अपराध पंजीबद्ध किया है।