Published On : Sat, Oct 28th, 2017

BJP महिला कार्यकर्ताओं में हड़कंप, SP को फोन पर बोलीं- CD में मैं नहीं हूं


नई दिल्ली: छत्तीसगढ़ के लोक निर्माण मंत्री राजेश मूणत की कथित अश्लील सीडी उजागर होने के बाद बीजेपी महिला मोर्चे की महिलाओं में खलबली मच गई है. पार्टी से जुड़ी एक महिला ने बाकायदा रायपुर के पुलिस अधीक्षक को फोन कर सफाई दी कि वह सीडी में नहीं है. दरअसल, कुछ लोग उस महिला की फोटो इस मामले से जोड़कर वायरल कर रहे हैं.

छत्तीसगढ़ के मंत्री के सीडीकांड को लेकर गाजियाबाद से रायपुर तक हंगामा मचा हुआ है. जिसका असर रायपुर में साफ देखने को मिल रहा है. खासकर बीजेपी महिला मोर्चा से जुड़ी महिलाएं परेशान हैं. वे एक दूसरे को ही शक की निगाहों से देख रही हैं. संगठन से जुड़ी एक महिला की फोटो सोशल मीडिया में वायरल की जा रही है.

आरोप है कि कुछ लोग उस महिला की फोटो सोशल मीडिया में वायरल करके उसे अश्लील सीडी में दिखने वाली बीजेपी लीडर बताने का प्रयास कर रहे हैं. इस पीड़ित महिला ने कहा है कि वो इस समय मध्य प्रदेश में है और जल्द रायपुर पहुंच कर लिखित में पुलिस से शिकायत दर्ज कराएगी.

दरअसल, जो अश्लील सीडी वायरल हुई है, उसमे दिखने वाली महिला हष्ट-पुष्ट है. उसका हेयर स्टाइल भी मौजूदा दौर के फैशन का है. जो शिकायतकर्ता महिला के लिए परेशानी का सबब बन गया है. आमतौर पर बीजेपी महिला मोर्चा की कई सदस्यों के साथ मंत्री राजेश मूणत के साथ अच्छे संबंध हैं. वो कई के साथ मित्रवत हैं तो कइयों के साथ पार्टी कार्यकर्ता होने के नाते मधुर हैं. कई महिलाएं ऐसी भी हैं, जिनके संबंध उनके साथ बहनों जैसे हैं.

जब यह सीडी उजागर हुई तो मंत्री जी ने फ़ौरन मीडिया में आकर कहा कि यह फर्जी सीडी है, तब से लोग सीडी में मौजूद पुरुष से मंत्री राजेश मूणत की तुलना करने में लगे. ऐसे में लोगो के बीच भ्रम की स्थिति बनी हुई है. हालांकि लोगों को विश्वाश दिलाने के लिए मुख्यमंत्री रमन सिंह ने कहा है कि अश्लील सीडी की फॉरेंसिक जांच के निर्देश दे दिए गए हैं. जल्द ही रिपोर्ट भी आ जाएगी.

लेकिन जब तक रिपोर्ट नहीं आती तब तक तो बीजेपी महिला मोर्चा की नेताओं और कार्यकर्ताओं में असमंजस के हालात बने रहेंगे. इसी दौरान जिस महिला का फोटो वायरल हो रहा है, उसने परेशान होकर रायपुर के पुलिस अधीक्षक को फोन किया. वे भी इस फोन कॉल आश्चर्य में पड़ गए.

बताया जा रहा है कि अश्लील सीडी सामने आने के बाद रोजाना पार्टी दफ्तर से लेकर मंत्रियों के बंगलो तक दस्तक देने वाली बीजेपी से जुड़ी महिलाएं अपनी साख बचाने की चिंता में डूबी हैं. दूसरी और अभी वीडियो में दिख रही महिला की शिनाख्त नहीं हो पाई है.

पुलिस की दलील है कि अभी जांच शुरू हुई है, उस महिला तक पहुंचने में कितना वक्त लगेगा यह तय नहीं है. लेकिन कोशिश है कि वो जल्द से जल्द उस महिला तक पहुंच जाएगी. पुलिस के मुताबिक सीडी बनाने वालों से लेकर उसे वायरल करने वालों तक मामले की जांच बारीकी से की जाएगी.