Published On : Fri, Apr 14th, 2017

फिर से विवादों में रामदेव की पतंजलि, दो बार हुआ चेक बाउंस

File Pic

Nagpur: इंडिया की सबसे फास्ट ग्रोथ करने वाली कंपनियों में एक है पतंजलि। एक ही साल में 1100 फीसदी ग्रोथ शायद ही किसी कंपनी ने की हो। पंतजंलि का मकसद ऐसे प्रोडक्ट की सेल करना है जो देश को स्वदेशी बनाते हो लेकिन कंपनी की नीतियों के बावजूद भी इसका विवादों से काफी गहरा नाता हैं। पंतजलि आए दिन विवादों में रहती है और अब एक और नया विवाद खड़ा हो गया है।

हाल ही में पतंजलि लैंड डील को लेकर विवादों में है। नागपुर के मिहान विशेष आर्थिक क्षेत्र में 106 एकड़ जमीन के अधिग्रहण के लिए दिया गया पतंजलि कंपनी का चेक दो बार बाउंस हो चुका है। पतंजलि ने फूड पार्क बनाने के लिए नागपुर के मिहान नॉन-सेज में 230 एकड़ जमीन का अधिग्रहण किया हुआ है।

पिछले साल अगस्त में हुए भूमि पूजन के बाद पतंजलि ने कहा कि वह सेज इलाके में एक्सपोर्ट यूनिट लगाने के लिए 106 एकड़ जमीन और चाहता है।

सेज में जमीन के अधिग्रहण के लिए योग गुरु रामदेव और पतंजलि के मैनेजिंग डायरेक्टर आचार्य बालकृष्ण ने 10 करोड़ रुपए का चेक टोकन मनी के रूप में दिया था। इसके बाद दिया गया 64 करोड़ रुपए का चेक दो बार बाउंस हो चुका है।

पतंजलि ने पीएनबी की हरिद्वार शाखा का चेक दिया था जिसे ड।क्ब् ने आईडीबीआई बैंक में डिपॉजिट कराया। आईडीबीआई बैंक ने बताया कि चेक बाउंस होने का कारण पतंजलि के अकाउंट का सिचुएशन 21-25 के तहत ब्लॉक होना है। चेक के बाउंस होने के बाद पंतजलि विवादों में है इससे पहले वाली डील पर कांग्रेस नेता संजय निरुपम पहले ही सवाल उठाते हुए जनहित याचिका दायर कर चुके हैं।