Published On : Wed, Apr 26th, 2017

नागपुर मनपा में तैनातगी अवसर के साथ चुनौती भी है : मुद्गल

नागपुर: नागपुर महानगरपालिका के नए आयुक्त अश्विन मुद्गल ने आज बुधवार २६ अप्रैल २०१७ को पूर्व मनपायुक्त श्रावण हर्डीकर से विधिवत जिम्मेदारी ग्रहण की.दूसरी ओर कल गुरुवार २७ अप्रैल २०१७ को सुबह १० बजे हर्डीकर पुणे स्थित पिंपरी- चिंचवड महानगरपालिका का पदभार ग्रहण करेंगे। उक्त दोनों अधिकारी आज दोपहर १ से ३ बजे तक हर्डीकर के निवास पर नागपुर मनपा के सन्दर्भ में चर्चा करेंगे,यह चर्चा नए मनपायुक्त के लिए मार्गदर्शन साबित होंगा।

नए मनपायुक्त मुद्गल ने पदभार ग्रहण करने के पश्चात् पत्रकारों से चर्चा करते हुए कहा कि नागपुर शहर देश का मध्य में है,नागपुर का सांस्कृतिक,राजनैतिक,आर्थिक,प्रशासकीय,राजकीय दृष्टि से अपना एक अलग महत्व है.इतने महत्वपूर्ण शहर के मनपा की जिम्मेदारी मिलना एक बड़ा अवसर के साथ ही साथ चुनौती भी है.इसलिए नई जिम्मेदारी को बड़ी गंभीरता से लिया है.उन्हें महानगरपालिका में काम करने का पहला अनुभव रहेगा,अबतक अन्य जिलापरिषद व जिलाधिकारी कार्यालय में काम कर चुके है,हर्डीकर से दूसरी मर्तबा जिम्मेदारी ले रहे है.इसके पूर्व यवतमाल जिलाधिकारी का चार्ज लिए थे.हर्डीकर को उन्होंने राज्य के उम्दा अधिकारियों में से एक कहा.


मनपा में अंतर्गत चल रहे प्रकल्पों सह ज्वलंत आह्वानों को अपने अनुभव सह पदाधिकारी-अधिकारी सहित जनता के समन्वय से सफल अंजाम तक पहुँचाने का उद्देश्य रहेंगा।

आर्थिक तंगी से निपटने के सवाल पर उन्होंने कहा कि मनपा की खुद की आय स्त्रोत,अनुदान सह कर्ज संबंधी जानकारी संग्रह कर वर्त्तमान में मनपा झेल रही आर्थिक अड़चनों को दूर करने को प्राथमिकता दूंगा।जिससे प्रकल्प बाधित न हो और कर्मचारियों को माह के पहली से पांच तारीख के मध्य निरंतर वेतन दिया जा सके.

एक अन्य सवाल पर नए आयुक्त मुद्गल ने जानकारी दी कि मनपा प्रशासन ने उन्हें दी जानकारी के हिसाब से मनपा में ३४% पद खासकर महत्वपूर्ण व तकनिकी पद रिक्त है.इन्हे अविलंब भरा जाएगा।इसके लिए न्यायलय व राज्यपाल का आदेश भी प्राप्त हुआ है.कई विभागों के अकृतबन्ध ( इस्टैब्लिशमेंट) भी तैयार है,उसके अनुसार भर्ती शीघ्र की जाएंगी।

मुद्गल ने मनपायुक्त का पदभार ग्रहण करने के पश्चात् सर्वप्रथम मनपा के सभी विभागों के प्रमुखों से अल्पकालीन परिचय सह बैठक की.

हर्डीकर को काँटों भरी जिम्मेदारी
पिंपरी- चिंचवड मनपा इन दिनों अनेक अड़चनों के दौर से गुजर रही है,उन्हें प्रशासकीय दृष्टि से यथावत करने की बड़ी अहम् जिम्मेदार हर्डीकर पर रहेंगी। विगत दिनों पिंपरी- चिंचवड मनपा आयुक्त के स्टेनो एसीबी के हत्थे चढ़ गए थे.यह समझा जा रहा है कि उक्त मनपा की व्यवस्था चरमरा हुई है.इसके साथ ही नागपुर मनपा में जलापूर्ति व्यवस्था ( २४ बाय ७) सँभालने वाली कंपनी को पुणे में भी ठेका मिला है.पूर्व नागपुर मनपा आयुक्त व ओसीडब्लू के संयुक्त अनुभव के आधार पर पिंपरी- चिंचवड मनपा दायरे में २४ बाय ७ जलापूर्ति व्यवस्था को सफल अंजाम तक पहुंचाने की भी हर्डीकर की अहम् जिम्मेदारियों में से एक रहेंगी।

– राजीव रंजन कुशवाहा