Published On : Thu, Jan 1st, 2015

सावली : विधायक की सतर्कता से पकड़ी गयी लाखों की बिजली चोरी


सैकड़ो विद्युत पंप द्वारा तरबूज फसल को जल आपुर्ति

Forest Electric  (2)
सावली (चंद्रपुर)।
सावली शहर को लगकर खेड़ी, सारागड़, चारगांव, भारपायली परिसर में नदी के किनारे हजारों हेक्टर तरबूज की फसल की जा रही थी. फसल के लिए सैकड़ो विद्युत पंप द्वारा जल आपुर्ति के लिए बिजली चोरी की जा रही थी. क्षेत्र के विधायक की सतर्कता से लाखों रुपयों की चोरी पकड़ी गयी. यह घटना हाल ही में नव वर्ष की पहली संध्या पर उजागर हुई. इस संदर्भ में क्या विद्युत विभाग को कोई खबर नहीं थी? इस घटना से विद्युत विभाग की सतर्कता पर प्रश्न चिन्ह निर्माण हो रहा है. गरीब ने बिल नही भरा तो सुचना न देते हुए बिजली काट दी जाती है. लेकिन विधायक ने लाखों रूपये की बिजली चोरी का पता लगाकर विद्युत विभाग, वन विभाग, राजस्व विभाग को निंद से जगाया है.

ब्रम्हपुरी विधानसभा क्षेत्र के लोकप्रिय विधायक विजयभाऊ वडेट्टीवार ने हाल ही में सावली तालुका का दौरा किया. उस दौरान बिजली चोरी होने का ध्यान में आया. उनके साथ कांग्रेस कार्यकर्ता प्रफुल बोमनवार, संदीप पुण्यपकार, दिनेश चिटनुस्वार सहित अनेक कार्यकर्ता उपास्थित थे. बिजली की चोरी की बात पता चलने पर विधायक वडेट्टीवार ने कार्यकर्ताओं सहित चारगांव नदी जांच की. इस दौरान घटनास्थल पर विद्युत विभाग, वन विभाग, राजस्व विभाग के अधिकारियों को तुरंत बुलाया गया. नदी पर लगाये गए सैकड़ों पंप, विद्युत एक्सेसरीज जप्त किये. यह प्रकार नदी को लगकर हजारों हेक्टर में फैले तरबूज की फसल को पानी देने के लिए था.

Forest Electric  (3)
उल्लेखनीय है कि सावली तालुका में परप्रांतीय बंगाली लोगों ने तरबूज फसल लेने के लिए शुरुवात की. आज भी हजारों हेक्टर खेती नदी को लगकर है. वहां कोई भी फसल नहीं उगाई जाती. किसानो की खाली जगह का फायदा उठाकर अनेक परप्रांतीय बंगाली लोग तरबूज की खेती करते है. तरबूज की फसल के लिए ज्यादा पानी की आवश्यकता होती है. जहां से बिजली मिले वहां से बिजली चोरी की जाती है. तालुका में सभी जगह लाखों रुपयों की बिजली चोरी की जा रही है. इस गंभीर विषय पर विद्युत विभाग ध्यान नहीं दे रहा. यह कार्रवाई सावली के तहसीलदार सौरंगपते, नायब तहसीलदार चन्नावर, तलाठी पोतनवार, विद्युत विभाग के गावंडे, वनविभाग क्षेत्र सहाय्यक चिकाटे ने की.