Published On : Mon, Nov 17th, 2014

सावनेर : खाने में मिली इल्लियां, 36 घंटे से लड़कियों को खाना नहीं दिया!


मागासवर्गीय लड़कियों के छात्रावास की घटना

Kamla Nehru chatrawas
सावनेर (नागपुर)।
यहां के खापा रोड पर स्थित कमला नेहरू मागासवर्गीय र.क्र.19/88, आदर्श मागासवर्गीय समाजसेवी शिक्षण संस्था नागपुर द्वारा संचालित छात्रावास में करीब 8 से 14 उम्र की 35 लड़कियां रहती है. 16 नवंबर को छात्रों को सुबह 11 बजे के करीब खाना दिया गया. इस दौरान खाने में इल्लियां दिखाई दी जिसकी शिकायत खाना बनाने वाली महिला को की गई. संचालक ने छात्रों को डांटकर ऐसा कहां कि, ‘ऐसा ही खाना मिलेगा, खाना होगा तो खाओ नहीं जाओ यहाँ से’. लेकिन रात में अच्छा खाना मिलेगा यह सोचकर सभी छात्राएं भूखी रह गई.

संचालक महिला ने सुबह खाना नहीं खाया तो अभी खाना नहीं मिलेगा ऐसा फरमान जारी किया. जिससे अभी 36 घंटे होने के बाउजूद छात्राओं को खाना नहीं दिया गया. अपनी लड़की को मिलने आये एक पिता को जब घटना का पता लगा तो उन्होंने तुरंत कुछ समाजसेवी लोगों को इस घटना की जानकारी दी. सरकार की विभिन्न योजना का लाभ लेने के लिए मागासवर्गीय छात्रा छात्रावास में आते है लेकिन समाजसेवा के नाम पर दुकानदारी चलाने वाली ऐसी संस्था पर लगाम कसना जरुरी है. शासकीय अनुदान पर मिलने वाली इस योजना में मागासवर्गीय छात्राओं को कम दर्जे का खाना परोसा जा रहा है.

Kamla Nehru chatrawas savner
पवन बंसोड़ ने 35 लड़कियों पर हो रहे अत्याचार पर से पर्दा उठाने पर छात्रावास में हो रहे अनुचित मामले से अभिवाहक भी गहरी चिंता में है. घटना की उच्चस्तरीय जांच हो ऐसी मांग छात्राओं के अभिवाहक कर रहे है.