Published On : Tue, Mar 17th, 2020

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को आतंकी कहने पर वकील के ख़िलाफ़ राजद्रोह का मामला दर्ज

Advertisement

नागपुर– उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को ‘आतंकवादी’ कहने के आरोप में कानपुर जिला अदालत के एक वकील के खिलाफ राजद्रोह का मामला दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया है.इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक, अब्दुल हन्नान नाम के वकील ने रविवार को राज्य के सूचना विभाग के मीडिया सलाहकार शलभ मणि त्रिपाठी के एक ट्वीट पर कॉमेंट किया था.

दरअसल, त्रिपाठी ने राज्य विधानसभा में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के भाषण के एक हिस्से का वीडियो ट्वीट किया था. इस वीडियो में मुख्यमंत्री नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) और राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर (एनआरसी) के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे लोगों पर पुलिस के लाठीचार्ज का समर्थन कर रहे हैं.

Advertisement

इस वीडियो को शेयर करते हुए त्रिपाठी ने ट्वीट कर कहा था, ‘तुम कागज नहीं दिखाओगे और दंगा भी फैलाओगे तो हम लाठी भी चलवाएंगे, घर-बार भी बिकवाएंगे औऱ हां पोस्टर भी लगवाएंगे.’ वकील हन्नान ने त्रिपाठी के इस पोस्ट को रिट्वीट करते हुए योगी आदित्यनाथ को आतंकवादी कहा था.

एक अन्य ट्वीट में हन्नान ने कहा था कि वह सीएए विरोधी प्रदर्शनकारियों को निशुल्क कानूनी मदद मुहैया कराएंगे. उन्होंने संविधान का सम्मान करने वाले सभी लोगों से उन्हें फॉलो करने और उनके ट्वीट को शेयर करने का आग्रह भी किया था.

इस पूरे घटनाक्रम पर कल्याणपुर पुलिस थाने के एसएचओ अजय सेठ ने कहा, ‘हमने उस शख्स के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली है. उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया है और अदालत के समक्ष पेश करने के बाद जेल भेज दिया गया.’

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

 

Advertisement
Advertisementss
Advertisement
Advertisement
Advertisement