Published On : Fri, Feb 5th, 2021

नागरिकों के घरों की बिजली नहीं काटने देगी भाजपा : पूर्व मंत्री बावनकुले

नागपुर– बिजली बिल के मुद्दे पर पिछले साल से ही भाजपा और कांग्रेस के बीच काफी तनातनी चल रही है. महाविकास आघाडी सरकार के बिजली बिल के वसूली के खिलाफ भाजपा पार्टी की ओर से शुक्रवार 5 फरवरी को राज्यभर में सरकार के खिलाफ धरना प्रदर्शन और बिजली बिल माफ़ करने की मांग गई. पूर्व मंत्री चंद्रशेखर बावनकुले की ओर से भी राज्य सरकार के खिलाफ नागपुर महावितरण कार्यालय के बाहर विरोध प्रदर्शन किया गया. बावनकुले ने इस दौरान कहा की 72 लाख नागरिकों को नोटिस भेजे गए है. 4 करोड़ नागरिक अँधेरे में रहनेवाले है. इसके बाद 72 लाख नागरिकों के बिजली कनेक्शन काटे जाएंगे.

बावनकुले ने सरकार पर निशाना साधते हुए कहा की सरकार ने घोषणा की थी, जिस कारण नागरिक राह देख रहे है और इसी कारण नागरिकों ने बिजली के बिल नहीं भरे है. उन्होंने मांग की है कि 72 लाख नागरिकों को दिए गए सरकार द्वारा नोटिस वापस लिए जाए,


इसके साथ किसानों को बिजली मुफ्त दी जाए, और आनेवाले 5 वर्षो तक सरकार द्वारा की गई घोषणा को कायम रखना चाहिए. उन्होंने कहा कि आज ताला ठोंको आंदोलन किया गया है, आनेवाले दिनों में शहरों में और जिलों में आंदोलन किया जाएगा. 72 लाख नागरिकों के घरों के सामने भाजपा के कार्यकर्त्ता खड़े रहेंगे और किसी भी नागरिक के घर की बिजली नहीं काटने देंगे.

इस दौरान पूर्व महापौर संदीप जोशी ने कहा की की नागपुर शहर में किसी भी नागरिक के घर की बिजली नहीं काटने देंगे. जोशी ने कहा की जहाँपर भी बिजली काटने के लिए कर्मचारी जाएंगे, वहां पर उस प्रभाग के भाजपा के नगरसेवक मौजूद रहेंगे और एक भी कनेक्शन डिस्कनेट नहीं होने देंगे.