Published On : Mon, Sep 27th, 2021

भाजपा सरकार किसानों का दुश्मन : केदार

नागपुर: केंद्र की भाजपा सरकार ने हमेशा किसान विरोधी रुख अपनाया है। केंद्र सरकार द्वारा तीन काले कानूनों के खिलाफ पिछले दस महीने से दिल्ली में धरना प्रदर्शन कर रहे किसानों पर अभी तक केंद्र सरकार ने ध्यान नहीं दिया है। आंदोलन के दौरान करीब 600 किसानों ने अपने प्राणों की आहुति दी है। लेकिन फिर भी केंद्र सरकार ने उन किसानों के आंदोलन का संज्ञान नहीं लिया है।

राज्य के पशुपालन, दुग्ध व्यवसाय विकास, खेल और युवा कल्याण मंत्री सुनील केदार ने भाजपा सरकार को एक किसान विरोधी सरकार कहा और जनता से भविष्य में इस सरकार को अपनी जगह दिखाने की अपील की।
केदार नागपुर जिला परिषद उपचुनाव के संदर्भ में केलवद सर्कल में आयोजित एक प्रचार सभा के दौरान भाषण दे रहे थे। प्रचार अभियान के दौरान केदार ने केलवद, नांदागोमुख, उमरी, सालई, मालेगांव, सावली, जटामखोरा, बिडगांव आदि गांवों का दौरा किया।

बैठक में मंत्री सुनील केदार ने भाजपा पर तंज कसते हुए कहा कि ओबीसी आरक्षण की तर्ज पर हो रहे उपचुनाव के लिए भाजपा सरकार पूरी तरह से जिम्मेदार है। भाजपा सरकार ने ही जानबूझकर ओबीसी समुदाय की आंखों में धूल झोंककर उनका आरक्षण रद्द कर दिया है।

कोरोना महामारी के दौरान कांग्रेस शासित जिला परिषद द्वारा किया गया कार्य अविस्मरणीय है। जिला परिषद द्वारा कोरोना काल में स्वास्थ्य व्यवस्था को सख्ती से नियोजित किया गया था। इसलिए हम समय रहते कोरोना जैसी महामारी को रोकने में सफल रहे।

इस अवसर पर जिला परिषद के पूर्व उपाध्यक्ष मनोहर कुंभारे, सभापति तापेश्वर वैद्य, पंचायत समिति सावनेर के सभापति अरुणा शिंदे, पंचायत समिति सदस्य, जिला परिषद सदस्य, सरपंच व कांग्रेस कार्यकर्ता एवं पदाधिकारी गण तथा बड़े पैमाने पर नागरिक उपस्थित थे।