Published On : Fri, Aug 18th, 2017

“झिरो माईल मेट्रो स्टेशन : २६०० क्युबिक मीटर (स्लॅब) का निर्माण कार्य”


नागपूर:
शहर के इतिहास में इतना विशाल स्लॅब पहली बार महा मेट्रो रेल कि और से स्टेशन निर्माण के लिए बिछाया गया है. जिस स्थान पर स्लॅब डाला गया है,वह शहर ही नही पुरे देश का केंद्र बिंदू माना जाता है, झिरो माईल से लगकर ही महा-मेट्रो रेल परियोजना कि और से झिरो माईल स्टेशन का निर्माण तेज गती से किया जा रहा है. शुक्रवार को सुबह ६ बजे से स्लॅब बिछाने के कार्य में अधिकारी और कर्मचारीयो की टीम जुटी रही. बेंसमेंट कॉंक्रीट का काम किया जा रहा है, २६०० क्युबिक मीटर का कॉंक्रीट ६५० मेंट्रिक टन मटेरियल से मजबुतीकरण किया गया.

उल्लेखनीय है कि, महा-मेट्रो के व्यवस्थापकीय संचालक डॉ.बृजेश दीक्षित ने झिरो माईल के आंतरराष्ट्रीय महत्व को देखते हुए मेट्रो रेल स्टेशन डिजाईन को बहुपयोगी प्लान किया है. इस स्थान पर आईकॉनिक टॉवर बनाया जायेंगा जो, सभी से कनेव्कट रहेंगा. शहर कि पार्किंग समस्या को देखते हुए स्टेशन कि इमारत में ही २५० कार पार्किंग कि व्यवस्था करने का प्रावधान किया गया है. आवागमन के लिये ८ एस्केलेटर्स और १० लिफ्ट् उपलब्ध रहेंगी.

झिरो माईल स्टेशन के प्लॉट का क्षेत्र १२००० वर्गमीटर के साथ २ बेसमेंट, ग्राउंड प्लोर सहित १९ मंजिला इमारत रहेंगी. इसकी उंचाई ९० मिटर निर्धारित की गयी है. महानगर के इतिहास में इतनी बडी विशाल इमारत का निर्माण होना आरेंज सिटी कि सबसे बडी उपलब्धी है.


इस जगह झिरो माईल हेरिटेज वॉक का निर्माण भी किया जा रहा है. स्टेशन कि इमारत में होटल, रेस्टॉरन्ट,व्यावसायिक कॉम्प्लेक्स, कार्यालय आदी रहेंगे. सही मायने में झिरो माईल स्टेशन कि इमारत महानगर के आकर्षण का केंद्र बनेगी.


स्टेशन का परीक्षेत्र ५४०० वर्गमीटर है, इसके कॉंक्रीटीकरण का कार्य शुरू कर दिया गया है. ६ चरनो में कार्य पुरा किया जायेंगा. इस भव्य इमारत निर्माण के लिये सामग्री कि पूर्ती २ आरएमसी प्लांट के माध्यम से २६ ट्राजिट मिक्सर द्वारा कि जा रही है. इस भव्य बहुमंजिल झिरो माईल मेट्रो स्टेशन कि डिजाईन मेंसर्स. एनिया फ्रांस ने तैयार कि है जिसका निर्माण कार्य आयटीडी सिमेंटेशन द्वारा किया जा रहा है, निर्माणाधीन कार्य महा मेट्रो के जनरल कन्सल्टंट कि निगराणी में हो रहा है.