Published On : Fri, Jan 18th, 2019

महागठबंधन ढ़कोसला,किसी को पता नहीं कौन किसके साथ है – भूपेंद्र यादव

नागपुर : बीजेपी की अनुसूचित जाति प्रकोष्ठ का राष्ट्रीय अधिवेशन शनिवार से शुरू हो रहा है। इससे पूर्व बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव भूपेंद्र यादव ने शुक्रवार को अधिवेशन स्थल पर मीडिया से संवाद साधा,इस दौरान अपनी बात रखते हुए उन्होंने बीजेपी के खिलाफ लोकसभा चुनाव के लिए विपक्षी दलों के तैयार हो रहे महागठबंधन पर निशान साधा। यादव ने कहाँ कि महागठबंधन महज एक ढकोसला है। इसमें कौन अंदर है और कौन बाहर,कौन किसके साथ है पता नहीं है।

उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी और बीएसपी का उदाहरण देते हुए उन्होंने कहाँ कि इन दोनों दलों ने कांग्रेस को ही बाहर का रास्ता दिखा दिया। टीएमसी के साथ अन्य दल महागठबंधन में शामिल होंगे या नहीं यह भी स्पस्ट नहीं है। विपक्ष में नेतृत्व का आभाव है जबकि बीजेपी वर्ष 2019 में फिर सक्षम नेतृत्व के साथ मजबूत सरकार बनाना चाहती है। कांग्रेस एंड कंपनी के पास न नेता न नीयत और न सिद्धांत है।

जबकि बीजेपी की नेतृत्व वाले एनडीए में विस्तार हो रहा है हमारा आकर बढ़ा है 35 दल हमारे गठबंधन में शामिल है। नागपुर में होने जा रहा अधिवेशन वर्ष 2019 चुनाव की पृस्ठभूमि में हो रहा है। जिसका मक़्दस बीजेपी को फिर से सत्ता में लाना और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में देश को फिर से मजबूत सरकार देने का है।


बीजेपी चुनाव से पूर्व अपने सभी प्रकोष्ठ का अधिवेशन कर रही है। अनुसचित जाति का अधिवेशन नागपुर में होने के साथ अन्य मोर्चो के अधिवेशन का कार्यक्रम भी तय है। आगामी 31 जनवरी और 1 फ़रवरी को दिल्ली में अल्पसंख्यक मोर्चे का,2 से 3 फ़रवरी को अनुसूचित जाति जनजाति का अधिवेशन भुवनेश्वर में जबकि 15 और 16 फ़रवरी को पटना में पिछड़ा वर्ग का अधिवेशन आयोजित किया गया है।

बीमार होने की वजह क्या इस अधिवेशन के समापन अवसर आयोजित सभा पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह हिस्सा लेंगे इस पर यादव ने कहाँ कि वो नहीं आयेगे ऐसी कोई जानकारी शाह द्वारा नहीं दी गई है। वो अगर नहीं भी आते है तो उनके स्थान में कोई अन्य राष्ट्रीय नेता सभा में भाग लेने की जानकारी उन्होंने दी।

अधिवेशन का उद्घाटन केंद्रीय मंत्री नितिन गड़करी जबकि समापन महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस करेंगे। देश के सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री और बीजेपी की पार्लियामेंट्री कमेटी के सदस्य थावरचंद गहलोत भी अधिवेशन में भाग लेंगे। यादव ने बताया कि अधिवेशन में भाग लेने आने वाले प्रतिनिधि दीक्षा भूमि और संघ भूमि,स्मृति भवन दर्शन के लिए जायेगे।