Published On : Thu, Dec 6th, 2018

कार में मिली पिस्तौल और कारतूस, भांगे लॉन के संचालक का बेटा फिर पुलिस को चकमा देकर फरार

नागपुर: प्रेमिका को रिवाल्वर की नोक पर धमकाने और छेड़खानी करने के मामले में पहले से फरार भांगे लॉन के संचालक पुरुषोत्तम भांगे का बेटा विनय एक बार फिर पुलिस को चकमा देकर फरार हो गया. पुलिस ने उसके साथियों से पिस्तौल और जिंदा कारतूस जब्त किए हैं. उसके 4 साथियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. पकड़े गए आरोपियों में कोराडी निवासी राकेश मोहन गाड़ेकर, खापरखेड़ा निवासी नीलेश डहेरिया, रामटेक निवासी महेश भैयाजी बरगट और संजय शिवनारायण कंबाले का समावेश है.

बुधवार की शाम पुलिस को जानकारी मिली कि कोतवालनगर परिसर में कुछ लोग कार क्र. एम.एच. 40-ए.सी. 4450 में बैठकर शराब पी रहे हैं. खबर मिलते ही राणाप्रतापनगर थाने के कांस्टेबल गयाप्रसाद यादव, संदीप यादव, राहुल टापरे और श्रीकांत कनोजिया अपने वाहनों पर वहां पहुंचे. पुलिस को देखते ही कार में बैठा विनय फरार हो गया. पुलिस ने उसके 4 साथियों को पकड़ लिया. कार की तलाशी लेने पर गाड़ेकर के पास पिस्तौल और 2 जिंदा कारतूस मिले. चारों को गिरफ्तार कर आर्म्स एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया.

पुलिस विनय की तलाश कर रही है. विगत 8 नवंबर को बजाजनगर पुलिस ने विनय के खिलाफ छेड़खानी का मामला दर्ज किया था. विनय ने इसके पहले युवती को पिस्तौल की नोक पर धमकाया था. हो सकता है कार में मिली पिस्तौल उसी की थी. इसके पहले भी वह पिस्तौल को लेकर विवादों में घिरा है. सूत्रों की माने तो अपने साथ पिस्तौल लेकर ही घूमता है.