Published On : Fri, Jul 24th, 2015

भंडारा : दो पुलिस नाईक फंसे एसीबी के जाल में

Bribe Bhandra Police
भंडारा।
यहां के गडेगांव पुलिस मदद केंद्र के पुलिस नाईक प्रमोद रमेश गभने (37) और ललित शामराव गौरी (41) को 500 रूपये की रिश्वत लेने के अपराध में एसीबी ने धरदबोचा. एसीबी ने ये कार्रवाई 23 जुलाई को की.

प्राप्त जानकरी के अनुसार शिकायतकर्ता का ट्रांसपोर्ट का व्यवसाय है. उनके वाहन गडेगांव, भंडारा मार्ग पर चलते है. उनके एक वाहन को पुलिस नाईक प्रमोद रमेश गभने और ललित शामराव गौरी ने रोका और गाड़ी के सभी दस्तावेज जांचकर ड्राइवर से 500 रूपये एंट्री फीस की मांग की. इस दौरान शिकायतकर्ता से फोन पर बात करके वाहन छोड़ा गया. शिकायतकर्ता पुलिस मदद केंद्र गडेगांव में पहुंचा. जहां दोनों पुलिस नाईकों ने शिकायकर्ता के ट्रक कारधा से रायपुर तथा टाटा एस और एल.सी.व्ही कारधा से अशोक लेलैंड कंपनी गडेगांव में चलाने के लिए 6 महीनों की 5,000 रूपये एंट्री फ़ीस मांगी. इससे शिकायतकर्ता ने इसकी शिकायत एसीबी से कर दी. शिकायत के आधार पर एसीबी ने जाल बिछाया व दोनों पुलिस नाईकों को रिश्वत मांगने के अपराध में गिरफ्तार कर लिया. दोनों आरोपियों के खिलाफ 1988 रिश्वत प्रतिबंधक कानून के तहत मामला दर्ज कर दिया गया है.

उक्त कार्रवाई पुलिस उप अधिक्षक दिनकर सावरकर, पुलिस निरीक्षक किशोर पर्वते, पु.ह.वा. चिंधालोरे, ना.पु.का. अशोक लुलेकर, गौतम राउत, सचिन हलमारे पराग राउत, शेखर देशकर आदि टीम ने की.