Published On : Mon, Jan 6th, 2020

तेरी बदल जाए तकदीर, तू राधे-राधे बोल जरा…’ से गूंजा भागवत पंडाल

नागपुर: भगवान की कृपा से जीव के हृदय में भागवत कथा श्रवण करने का मन होता है. करोड़ों – करोड़ों जन्मों के पुण्य जब एकत्रित होते हंै तो कथा पंडाल में भक्त पहुंच जाते हैं और वहां बैठकर भगवान की कथा सुनते हंै. और जिनके ऊपर उनके पूर्वजों, उनके कर्मों की कृपा हो वो सातों दिन कथा श्रवण कर पाते हैं। उक्त उद्गार विश्व शांति सेवा समिति चैरिटेबल व विश्व शांति सेवा समिति नागपुर शाखा के तत्वाधान आयोजित श्रीमद् भागवत कथा के दौरान धर्मरत्न शांति दूत देवकीनंदन ठाकुर जी महाराज कहे. श्रीमद् भागवत कथा का आयोजन 8 जनवरी तक रेशिमबाग ग्राउंड में किया गया है. कथा के मुख्य यजमान गोविंद बंसल परिवार, वामन हारोडे परिवार हैं.

आज कथा में श्री राम जन्मोत्सव व श्री कृष्ण जन्मोत्सव का वर्णन देवकीनंदन ठाकुरजी महाराज ने किया. उन्होंने कहा कि निश्चित तौर पर जीवन आसान तो नहीं है, बहुत मुश्किल है. परंतु ऐसे मुश्किल समय में अपने उद्देश्य को याद रखना कि मेरा कल्याण हो। इसी के लिए मानव जीवन मिला है। इस भाग- दौड़ भरे जीवन में व्यक्ति सब कुछ ध्यान रखता है सिवाय अपने कल्याण के। हमें सब कुछ याद है. जिन्हें भुलाने के लिए कहा गया था वही हमें याद है।

जिन्हंे याद करने के लिए कहा गया था वही हम भूले हुए हंै। हमारे जीवन में मोक्ष बहुत जरुरी है उसके साथ ही यह भी कि हमारा कल्याण, हमारी मुक्ति, हमारा उद्धार हो. मनुष्य योनि में ही यह सब संभव है और किसी योनि में संभव ही नहीं। लेकिन अब जब गोविंद ने कृपा कर दी है तो मनुष्य योनि प्राप्त हो गयी है। तो अपने हरि को, अपने गोविंद को, अपने इष्ट को, अपने आराध्य को, मनाने से बिल्कुल मत झुकिए। अगर इस बार गलती हो गयी तो अगली बार बहुत कठिन हो जाएगा। इसलिए भगवान ने जो कृपा की है उसका सदुपयोग करें, दुरुपयोग न करें।

ठाकुर जी ने ‘तेरी बदल जाए तकदीर, तू राधे-राधे बोल जरा…’ भजन गाकर सभी को झूमने पर मजबूर कर दिया. एक से एक सुंदर भजनों की प्रस्तुति की गई. रविवार को ट्रस्ट की ओर से रक्त दान शिविर, नेत्र, दंत, नाक, कान, गला जांच व एक्स- रे, व मोतियाबिंद शस्त्र क्रिया शिविर का आयोजन किया गया. इस अवसर पर जरूरतमंदों को चष्मों का वितरण भी किया गया. शिविर का उद्घाटन देवकीनंदन ठाकुर महाराज ने किया. शिविर का लाभ लगभग एक हजार लोगों ने उठाया.

आज व्यासपीठ का पूजन गोविंद छैलूराम बंसल, वामन हारोडे, उपमहापौर मनीषा कोठेकर, आयोजन मंडल अध्यक्ष शकंुतला अग्रवाल, मृणाल इलमकर, निर्मला गोयनका, रत्ना जेजानी, सुमेधा चैधरी, शीतल अग्रवाल, वैभव जाउलकर, पुष्पा अग्रवाल, ज्योति गोयल, शीला कान्होरिया सहित अन्य ने किया.


सोमवार को श्रीमद् भागवत कथा के पंचम दिवस पर भगवान कृष्ण की बाललीला, गोवर्धन पूजा, छप्पन भोग का वृतांत सुनाया जाएगा। इसके उत्सव यजमान अनंतराय अग्रवाल परिवार हैं. इस अवसर पर भक्तों से उपस्थिति की अपील की गई है.