Published On : Wed, Jul 15th, 2020

सिविल लाइन में भिखारियों का हुजूम,कोरोना को दे रहा आमंत्रण

मीठा नीम दरगाह परिसर सील

नागपुर: कोरोना के पॉजिटव मरीजों की संख्या में इनदिनों बढ़ोत्तरी से प्रशासन चिंतित हैं, पुनः सख्त लॉकडाऊन करने पर विचार कर रहा। इस बीच सिविल लाइन स्थित भिखारियों का जमावड़ा से नए-नए सवाल खड़े हो रहे,क्या चिराग तले अंधेरा हैं ? प्राप्त जानकारी के हिसाब से सिविल लाइंस में विधान भवन से सटे मीठा नीम दरगाह परिसर को पिछले कुछ घंटे पहले सील किया गया। तो दूसरी तरफ भारतीय विद्या भवन स्कूल से लेकर अज़ाब बंगला तक सैकड़ों भिखारियों का जमावड़ा हैं। इस मार्ग से आवाजाही करने वाले भयभीत हैं तो पदयात्रा करने वाले गुजरने से हिचक रहे। स्कूल के मुख्य द्वार के बाजू पालकों का जमावड़ा भी देखा गया।

सवाल यह उठ रहा कि शहर भर में कोरोना के नाम पर क्षेत्र दर क्षेत्र सील करने वाली प्रशासन उक्त भीड़ को लेकर गंभीर क्यों नहीं हैं।क्या प्रशासन ने उक्त मजमा के लिए अनुमति दी हैं। जबकि इस जमावड़े में अमूमन सभी अस्वच्छ दिखे।

पिछले माह तक दरगाह में भोजन वितरित हुआ करती थी,जो अब लगभग बंद हो गई।उक्त जमावड़ा इसलिए भी हैं कि कोई अन्नदाता इनके भूख को शांत करेंगा। कोविड-19 के पालक प्रशासन मीठा नीम दरगाह के निकट मनपा मुख्यालय हैं।इस जमावड़े को हल्का करने के लिए मनपा प्रशासन ने उचित कदम उठाना चाहिए। और तो और शहर के बड़े बड़े चौराहों पर इनदिनों शहर के बाहर से भीख मांगने वाली महिलाएं सक्रिय हैं, वे अपनी गोद में नग्न/अर्ध नग्न बच्चें को लेकर चौराहों पर रुकने वाले राहगीरों को परेशान कर रही।