Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!

    Nagpur City No 1 eNewspaper : Nagpur Today

    | | Contact: 8407908145 |
    Published On : Wed, Jun 3rd, 2020
    nagpurhindinews | By Nagpur Today Nagpur News

    10 राज्यों की 24 सीटों पर राज्यसभा चुनाव के लिए बजा बिगुल

    नागपुर/नई दिल्ली- 18 सीटों के अलावा चुनाव आयोग ने 6 नई सीटों पर भी चुनाव का ऐलान किया है. ये वो सीटें हैं जो जून-जुलाई के दरम्यान खाली हो रही हैं. इनमें अरुणाचल प्रदेश की 1, कर्नाटक की 4 और मिजोरम की 1 सीट शामिल है. अरुणाचल और कर्नाटक की सीट इसी महीनी खाली हो रही हैं, जबकि मिजोरम की सीट खाली होने की आखिरी तारीख जुलाई में है.

    10 राज्यों की 24 सीटों पर राज्यसभा चुनाव, जानिए कौन मुकाबले में
    10 राज्यों की 24 सीटों पर राज्यसभा चुनाव19 जून को सभी सीटों के लिये चुनावएमपी-कर्नाटक में लड़ाई दिलचस्प
    लंबे लॉकडाउन के बावजूद देश में एक तरफ कोरोना वायरस का संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है तो दूसरी तरफ अनलॉक की प्रक्रिया भी शुरू हो गई है. आर्थिक मार्चे पर देश खुलने के साथ ही धार्मिक और राजनीतिक गतिविधियां भी चालू होने लगी हैं. चुनाव आयोग ने भी राज्यसभा चुनाव के लिये तारीखों का ऐलान कर दिया है. दस राज्यों की कुल 24 राज्यसभा सीटों पर 19 जून को चुनाव होगा. इनमें 18 सीटें वो हैं, जिन पर लॉकडाउन के चलते मार्च में चुनाव नहीं हो सका था.

    चुनाव आयोग ने सोमवार यानी 1 जून को राज्यसभा चुनावों की तारीखों का ऐलान किया. आयोग ने 18 पुरानी सीटों के साथ 6 नई खाली हुई सीटों पर चुनाव की घोषणा की. जिन सीटों पर मार्च में चुनाव टल गया था, उनमें आंध्र प्रदेश की 4, गुजरात की 4, झारखंड की 2, मध्य प्रदेश की 3, राजस्थान की 3 और मणिपुर व मेघालय की 1-1 सीट हैं. इन सभी 18 सीटों पर 19 जून को सुबह 9 बजे से शाम 4 बजे तक वोटिंग कराई जाएगी. वोटिंग के तुरंत बाद शाम 5 बजे से वोटों की गिनती की जाएगी.

    6 नई सीटों पर चुनाव
    18 सीटों के अलावा चुनाव आयोग ने 6 नई सीटों पर भी चुनाव का ऐलान किया है. ये वो सीटें हैं जो जून-जुलाई के दरम्यान खाली हो रही हैं. इनमें अरुणाचल प्रदेश की 1, कर्नाटक की 4 और मिजोरम की 1 सीट शामिल है. अरुणाचल और कर्नाटक की सीट इसी महीनी खाली हो रही हैं, जबकि मिजोरम की सीट खाली होने की आखिरी तारीख जुलाई में है.

    इन सभी 6 सीटों पर चुनाव के लिये आज यानी 2 जून को नोटिफिकेश जारी हो गया है. नामांकन की आखिरी तारीख 9 जून है, जिसके बाद 10 जून को नामांकन पत्र की स्क्रूटनी की जाएगी. नामांकन वापसी की आखिरी तारीख 12 जून है. बाकी 18 सीटों के साथ ही यहां भी 19 जून को ही वोटिंग कराई जाएगी और उसी दिन रिजल्ट भी आ जायेगा.

    एमपी में दिलचस्प लड़ाई
    एमपी में तीन सीटों पर चुनाव होना है, लेकिन उम्मीदवार चार हैं. बीजेपी ने ज्योतिरादित्य सिंधिया और सुमेर सिंह सोलंकी को उतारा है तो कांग्रेस से दिग्विजय सिंह और फूल सिंह बरैया प्रत्याशी हैं. कांग्रेस ने फर्स्ट प्रायोरिटी दिग्विजय और सेकेंड पर बरैया को रखा है जबकि बीजेपी ने फर्स्ट पर सिंधिया और दूसरी पर सोलंकी को रखा है. कांग्रेस विधायकों की बगावत के बाद गणित बिगड़ गया है, ऐसे में कांग्रेस के लिए दूसरी सीट बचाना काफी चुनौतीपूर्ण हो गया है.

    गुजरात के उम्मीदवार और समीकरण
    गुजरात में राज्यसभा की चार सीटों में से बीजेपी अपने तीन उम्मीदवार खड़े कर सकती है. गुजरात विधानसभा में बीजेपी के पास 103 विधायक हैं, जबकि एनसीपी से एक और बीटीपी से 2 विधायकों का भी उसे समर्थन है. कुल मिलाकर 106 विधायक बीजेपी के पास हैं. वहीं, कांग्रेस के पास 73 विधायकों के अलावा एक निदर्लीय उम्मीदवार जिग्नेश मेवानी हैं. लेकिन मार्च में ही चुनाव से ठीक पहले कांग्रेस के पांच विधायकों ने इस्तीफा देकर पार्टी को बड़ा झटका दे दिया था.

    गुजरात- 4 सीटआंध्र प्रदेश- 4 सीटझारखंड- 2 सीटमध्य प्रदेश- 3 सीटराजस्थान- 3 सीटकर्नाटक- 4 सीटमणिपुर- 1 सीटमेघालय- 1 सीटमिजोरम- 1 सीटअरुणाचल प्रदेश- 1 सीट
    गुजरात में राज्यसभा की एक सीट जीतने के लिए दोनों ही पार्टी को 38 वोट की जरूरत है. कांग्रेस को दो सीट जीतने के लिए 76 वोट चाहिए, जो उसके लिए फिलहाल बड़ी चुनौती नजर आ रहा है. इतना ही नहीं, बीजेपी कांग्रेस के पूर्व नेता नरहरि अमीन को अपने तीसरे उम्मीदवार के तौर पर मैदान में भी उतार चुकी है. इसके अलावा बीजेपी ने अभय भारद्वाज और रमीवा बेन बारा को चुनाव में उतारा है. जबकि कांग्रेस के उम्मीदवार शक्ति सिंह गोहिल और भरत सिंह सोलंकी हैं.

    झारखंड में दो सीटों पर मुकाबला
    झारखंड की दो राज्यसभा सीटों पर 3 उम्मीदवार मैदान में है. झारखंड मुक्ति मोर्चा से शिबू सोरेन हैं तो बीजेपी ने अपने प्रदेश अध्यक्ष दीपक प्रकाश को मैदान में उतारा है. जबकि कांग्रेस की तरफ से शहजादा अनवर प्रत्याशी हैं. विधायकों के आंकड़े के लिहाज से जेएमएम प्रत्याशी शिबू सोरेन की सीट पक्की मानी जा रही है जबकि दूसरी सीट के लिए कांग्रेस और बीजेपी के पास अपने दम पर जीतने के लिए पर्याप्त आंकड़े नहीं हैं. ऐसे में दोनों पार्टियों के बीच विधायकों के जोड़-तोड़ की कवायद तेज हो गई है.

    राजस्थान में केसी वेणुगोपाल मैदान में
    राजस्थान की तीन राज्यसभा सीटों पर चार प्रत्याशी लड़ रहे हैं. ऐसे में लड़ाई थोड़ी रोचक हो गई है. कांग्रेस की तरफ से पार्टी के महासचिव के.सी वेणुगोपाल और नीरज डांगी उम्मीदवार हैं. जबकि बीजेपी ने राजेंद्र गहलोत और ओंकार सिंह लखावत को प्रत्याशी बनाया है. राजस्थान में कांग्रेस की सरकार है और विधायकों की संख्या के हिसाब से उसकी दो सीटें पक्की मानी जा रही हैं, लेकिन बीजेपी को क्रॉस वोटिंग से उम्मीद है.

    आंध्र प्रदेश की 4 राज्यसभा सीटों पर पांच प्रत्याशी मैदान में हैं. वाईएसआर कांग्रेस ने पिल्ली सुभाष चंद्रबोस, मोपीदेवी वेंकटरमणास आल्ला अयोध्या रामीरेड्डी और परिमल नत्वानी को प्रत्याशी बनाया है. जबकि टीडीपी ने वर्ला रामय्या को मौका दिया है.

    मेघालय में कनेडी कोमेलियस और मेघालय डेमोक्रेटिक गठबंधन के वंसुख सीम के बीच मुकाबला है. मणिपुर की एक सीट पर तीन प्रत्याशी हैं. बीजेपी से तितुलर किंग महाराजा संजाओबा लिसीम्बा, कांग्रेस से पूर्व मंत्री टोंगब्रम मंगिबाबू और नगा पीपुल्स फ्रंट होनरीकुई काशुंग मैदान में हैं.

    कर्नाटक में 4 सीटों पर चुनाव
    कर्नाटक की चार सीटों पर चुनाव होने हैं. यहां के उम्मीदवार अभी तक तय नहीं हैं. लेकिन माना जा रहा है जेडीएस की तरफ से एचडी देवेगौड़ा और कांग्रेस की तरफ से मल्लिकार्जुन खड़गे प्रत्याशी हो सकते हैं. जबकि बीजेपी में स्थिति अभी स्पष्ट नहीं है. कांग्रेस को एक सीट मिलना लगभग तय है. जबकि कांग्रेस के सरप्लस वोट से JDS की नैया भी पार लगने की संभावना है. वोटों का समीकरण देखा जाए तो प्रत्येक उम्मीदवार को जीत हासिल करने के लिए करीब 45 वोट की आवश्यकता होगी. ऐसे में अब देखना होगा कि बीजेपी कौन से प्रत्याशी उतारती है.

    Stay Updated : Download Our App

    Mo. 8407908145
    0Shares
    0