Published On : Sat, Jan 13th, 2018

सेव बर्ड्स और नायलॉन मांजे के खिलाफ विद्यार्थियों ने दिया सन्देश


नागपुर: मकर संक्रांति पर नायलॉन मांजे के कारण सैकड़ों की तादाद में पक्षी जख्मी होते हैं तो कई पक्षी अपनी जान भी गवांते हैं. कुछ वर्षों से इंसानों के लिए भी यह नायलॉन मांजा घातक ही साबित हुआ है. कई लोग अब तक जख्मी हुए हैं तो वहीं कई लोग अपनी जानें भी इस नायलॉन मांजे के कारण गवां चुके है. शहर के नागरिकों को सन्देश देने के लिए शनिवार को ‘सेव बर्ड्स’ और नायलॉन मांजे पर रोक की मांग को लेकर सेव स्पीचलेस आर्गेनाईजेशन के बैनर तले और नेशनल सर्विस स्कीम, आभा गायकवाड़ पाटिल कॉलेज ऑफ़ इंजीनियरिंग और प्रियदर्शिनी के विद्यार्थियों ने संविधान चौक पर प्रदर्शन कर नागरिकों को नायलॉन मांजा इस्तेमाल नहीं करने का सन्देश दिया. इस दौरान बड़ी तादाद में विद्यार्थी और शिक्षक भी मौजूद थे. हाथों में बैनर लेकर, चिड़िया और घोसलों का मॉडल लेकर इन विद्यार्थियों ने यह प्रदर्शन कर लोगों का ध्यानाकर्षित किया.


गौरतलब रहे कि कई दिनों से शहर में नायलॉन मांजे को लेकर विभिन्न संगठनों की ओर से पुलिस विभाग को नायलॉन मांजे की बिक्री और कार्रवाई को लेकर निवेदन भी दिया गया था. पुलिस की ओर से भी कुछ जगहों पर कार्रवाई की गई थी. लेकिन पुलिस विभाग नायलॉन मांजे पर पूरी तरह से रोक लगाने में नाकाम साबित हुई है. हालांकि कई जगहों पर अभी भी नायलॉन मांजे की बिक्री बदस्तूर जारी है.