Published On : Fri, Jan 2nd, 2015

अकोला : एक ही परिवार के पांच सदस्यों ने किया आत्महत्या का प्रयास


अकोला।
उरल पुलिस थाना अंतर्गत आनेवाले ग्राम मोरझाडी के एक ही परिवार के पांच सदस्यों ने विष प्राशन कर आत्महत्या करणे का प्रयास किया ! नववर्ष के पहले ही दिन सामुहिक आत्महत्या के इस प्रयास ने पुरे जिल्हे को झंझोडकर रख दिया है ! बताया जाता है कि मोरखडे परिवार और पिडिता के परिवार के बीच चले आ रहे विवाद के कारणही मोरखडे परिवार ने जहर गटककर आत्महत्या करणे का प्रयास किया है . गाव की एक तलाक शुदा युवती के साथ धीरज मोरखडे के खिलाप छेडछानी का मामला पुलीस स्टेशन मे दर्ज है . बताया जाता है कि 12 नवंबर को पिडिता अपने परिजनो की साथ उरल थाना पहुंची जहां उसने धीरज के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई थी जिसकी बुनियाद पर धीरज के खिलाफ धारा ३५४ के तहत कारवाई कर उसे गिरफ्तार किया गया था बादमे उसकी जमानत भी हो गयी थी .

बारिश तथा ओलावृष्टि से आज जब ग्रामवासी निपटने के लिए तैयार थे ! उसी दौरान गाव के 55 वर्षीय अनिल बाबाराव मोरखडे परिवार के पांच सदस्यो ने जहर गटकने की खबर गांव मे फैली! जानकारी मिलते ही ग्रामवासी जब घर मे घुसे तो उन्हे भीतर सभी सदस्य गंभीर हालत मे दिखाई दिए . जिसमें रेखा अनिल मोरखडे (50), धीरज (20) आधार (16), प्रिती (15) का समावेश है .

उरल के पुलिस निरीक्षक पी.के. काटकर ने तत्काल मौके पर पहुचंकर एम्बुलेन्स से पांचो को सर्वोेपचार अस्पताल मे भतीa कराया लेकीन उनकी हालत गंभीर होणे के कारण उन्हे निजी अस्पताल मे भतीa कराया है . इस दौरान पुलिस वैन को एम्बुलेस के आगे कर वैन के लाउडस्पीकर के जरिए सरकारी अस्पताल से निजी अस्पताल तक के मार्ग का ट्रैफिक हटाकर सभी पीडितों को निजी अस्पताल पहुंचाने में मुस्तैदी दिखाई. यही नही इस दरमियान जिलाधिकारी के सरकारी वाहन को भी रोक दिया गया था. दोनो परिवार के बीच उपजा विवाद बरकरार रहा इस बिच एक बार फिर मोरखडे परिवार के खिलाफ धारा 294 और 504, 506 के तहत प्रतिबंधात्मक कारवाई भी की गई . लगातार हो रही पोलीस कारवाई के चलते और दो परिवारो के मतभेद के कारण मोरखडे परिवारने विष प्राशन कर आत्महत्या का प्रयास किया . अभी सभी सदस्य खतरे के बाहर है ! एैसी खबर निजी सुत्रोसे प्राप्त हुयी है !

Representational Pic

Representational Pic