Published On : Fri, Nov 7th, 2014

सावनेर : …और वह उसकी अस्मत से खेलता रहा


गरीब महिला पर अत्याचार से सहमा सावनेर, आरोपी फरार

सावनेर (नागपुर)। एक व्यापारी का पुत्र मौत का ख़ौफ़ दिखा एक गरीब महिला की बेबसी का लाभ उठाकर उसे अपनी हवस का शिकार बना उसकी अस्मत से खेलता आ रहा था. वहीं महिला समाज और अपने परिवार की असुरक्षा के बीच हर बार लुटती रही और अंत में सारी बेड़ियां तोड़ कर जब न्याय की गुहार लगायी तब तक वह वहशी दूर भाग खड़ा हुआ. यह खेल सावनेर में कई दिनों से चलता रहा था.

प्राप्त जानकारी के अनुसार, आरोपी रितेश मधुकर दहिकर (26) वार्ड न. 11 पुराना धान्य गंज निवासी पिता की वस्त्रों की दूकान में बैठता था. उसके बाजू की सब्जी-फल के व्यवसायी की पत्नी भी अपने पति की मदद करने दुकान चलती थी. आरोपी उस महिला को देखकर उसे अपनी जाल में फांसने की जुगत में था, उक्त औरत के प्रतिसाद न देते देख वह 7 जुलाई को घर पर अकेली पाकर उसका जबरन लैंगिक शोषण कर किसी को घटना बताने पर जान से मरने की धमकी भी दे डाली और फिर निरन्तर उसका शोषण समय-असमय करता रहता था. आरोपी ने 3 अक्टूबर को भी शोषण किया. फिर महिला सहम उठी और विचार किया कि यह एक बड़ा व्यवसायी का पुत्र है. क्या इसकी शिकायत करने पर स्थिति सुधरेगी या नहीं? परिवार पर विपत्ति तो नहीं आएगी? और अंततः महिला ने उधेड़बुन से बाहर निकल कर बुधवार 5 नवम्बर को पुलिस ठाने जाकर अपनी शिकायत दर्ज करा दी. पुलिस ने भादवि की धारा 376, 342, 448, 506 (ब) के तहत मामला दर्ज कर लिया. पुलिस निरीक्षक शैलेष सपकाळ के नेतृत्व में पुलिस निरीक्षक एस.जी. मेश्राम फरार आरोपी की तलाश कर रहे हैं.

किन्तु ऐसा माना जा रहा है कि आरोपी धनाढ्य होने से पुलिसिया संरक्षण के साथ ही जाँच में ढिलाई भी बरती जा सकती है, जिससे आरोपी के बच निकलने की सम्भावना बनी हुई है? अब पुलिस की कार्यप्रणाली पर लोगों की नज़रें टिकी हुई हैं. सवाल यह है कि उक्त महिला को क्या न्याय मिल पाएगा या आरोपी धन के बल पर बेलगाम जघन्य अपराध करते हुए लोगों की अस्मत से खेलते रहेगा?

Representational Pic

Representational Pic