Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!
    | | Contact: 8407908145 |
    Published On : Tue, Aug 11th, 2020

    नागपुर शहर शिवसेना में ली गईं विधानसभा निहाय बैठकें

    स्थानीय प्रभारी शहर संपर्क प्रमुख व एमएलसी दुष्यंत चतुर्वेदी की पहल

    नागपुर – लंबे अंतराल के बाद नागपुर में शिवसेना के आजी माजी पदाधिकारी और शिव सैनिकों ने गुटबाजी को तिलांजलि देते हुए पूरे हर्षोल्लास और नई उमंग चेतना के साथ विधानसभा बैठकों में भाग लिया, और खुलकर संपर्क प्रमुख से चर्चा की।

    नागपुर शहर के नवनियुक्त संपर्क प्रमुख दुष्यंत चतुर्वेदी ने सोमवार और मंगलवार को दक्षिण ,दक्षिण पश्चिम,उत्तर तथा पूर्व,पश्चिम,और मध्य नागपुर की विधानसभा निहाय बैठकों का आयोजन किया गया जिसमें लंबे अंतराल से पिछले १५ ,२० वर्षों से कार्यरत शिवसैनिक, नेता सहित नए युवाओं को व महिला नेताओं को भी आमंत्रित किया गया।

    इस विधानसभा निहाय बैठक में पहली बार संपर्क प्रमुख से एक एक एक शिवसैनिक ने चर्चा की और संपर्क प्रमुख चतुर्वेदी ने सभी सभी का संतोषजनक जवाब देते हुए समाधान किया और नए होश का संचार किया।

    विभिन्न विधानसभा बैठकों मै चर्चा करते समय शिवसैनिको ,पदाधिकारियों और नेताओं के चर्चा (सुझाव व प्रश्नों)के जवाब में चतुर्वेदी ने मार्गदर्शन करते हुए सम्पूर्ण गुटबाजी भूलकर शिवसेना हित में कार्य करते हुए मिशन नागपुर महानगरपालिका २०२२ का लक्ष्य सामने रखकर पूरी मेहनत और लगन से कार्य करने के निर्देश दिए।

    उन्होंने सबके समक्ष साफ किया शहर में शिवसेना की गुटबाजी यह गुजरा हुआ कल है, परंतु मेरे साथ सभी साथ चले और और मेरे लिए सब बराबर है,प्रत्येक शिवसैंनिक यह सिर्फ शिवसेना गुट का होना चाहिए और चतुर्वेदी ने कहा कि जरूरत पड़ने पर शहर के सभी ज्येष्ठ नेताओ से मार्गदर्शन लेते रहूंगा।

    उन्होंने आगामी नागपुर महानगर पालिका चुनाव के तहत प्रत्येक वार्ड में पुरूष सामान्य, पुरुष आरक्षित ,महिला उम्मीदवार तैयार करने के निर्देश दिए।
    चतुर्वेदी ने शाखा मजबूत करने की बात करते हुए प्रत्येक शाखाप्रमुख को निर्देशित किया कि शाखा में एक सुरक्षित माहौल होना चाहिए ताकि कि एक आम अबला महिला भी आकर निहसंकोच अपनी समस्या शाखाप्रमुख के समक्ष रखकर मदद ले सके।

    युवा सेना को अपने इच्छुक कार्यकर्ताओं को उनके कार्यक्षेत्र में आगामी महानगरपालिका चुनाव के लिए तैयारी करने के निर्देश देते हुए आगामी नगरपालिका चुनाव में युवाओं को भी मौका दिन की बात कही।

    चतुर्वेदी ने कड़े शब्दों में पक्ष बदनाम करनेवाले नेताओ को इशारा करते हुए कहा कि, वसूली , खं डनी करनेवाले किसी केस में उस सीधा पुलिस के हवाले करके पार्टी के बाहर का रास्ता दिखाया जाएगा।

    महिलाओं पर जोर देते हुए संविधान अनुसार 50% आरक्षण का हवाला देते हुए उन्होंने महिलाओं को शिवसेना मै आगे आने का आह्वान किया और पूरी शिवसेना उनके साथ खड़ी है ऐसा विश्वास दिलाया।

    प्रत्येक बैठक मै उन्होंने कार्यकर्ताओं को जन मानस की समस्याओं पर कार्य करते हुए लोगो तक शिवसेना पहुंचाने का निर्देश दिया और यह बताया कि जरूरत पड़ने पर पक्ष श्रेष्ठि के लिए कार्य करनेवाले प्रत्येक शिवसैनिक् के साथ वे हमेशा खड़े है।

    दुष्यंत चतुर्वेदी ने जल्द एक ऐसी कार्यकारिणी मुंबई से घोषित करवाने का आश्वासन दिया जिसमे प्रत्येक वर्ग, प्रत्येक नेता के कार्यकर्ता का समावेश रहेगा और गुटबाजी की तिलांजलि दी जाएगी।

    बैठक में प्रत्येक विधानसभा में नियमो का पालन करते हुए सैकड़ों शिवसैनीको के साथ प्रमुख रूप से माजी जिला प्रमुख सतीश हरडे, शेखर सावरबांधे, रमेश मिश्रा, नगरसेवक किशोर कूमेरिया, मंगला गवरे, किशोर पराते,राजेश तुमसरे, मंगेश कशिकर, नितिन तिवारी, युवसैना जिला प्रमुख हितेश यादव, विशाल बरबटे,बंडू तलवेकर, सूरज गोजे,दिगम्बर ठाकरे,प्रवीण जुम डे, मुन्ना तिवारी, महिला शहर प्रमुख अलका दलाल, सुरेखा खोबरागड़े,अजय दलाल प्रवीण देशमुख, महेश महड़िक,गुड्डू रहांगडाले, योगेश न्यायखोर,मोहन गुरूपंच,किशोर ठाकरे,सुनील बैनर्जी,मनोज शाहू, किशन प्रजापति, प्रवीण शर्मा,महेश महाडिक,नरेंद्र हजारे। के साथ अनेकों उपस्थित थे।

    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145