Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!
    | | Contact: 8407908145 |
    Published On : Tue, May 15th, 2018

    आगामी 2 जून से ‘एशियन किडनी हॉस्पिटल एन्ड मेडिकल सेंटर’ की होगी नागपुर में शुरुआत


    नागपुर: महाराष्ट्र की उपराजधानी नागपुर के रामदासपेठ में रीनल केयर सेंटर के माध्यम से किडनी पेशंटों को संतोषजनक सेवाएं दे रहे हैं. डॉ. समीर चौबे द्वारा मरीजों को सारी सुविधाएं एक ही छत के नीचे उपलब्ध कराने के उद्देश्य से आगामी 2 जून से वेस्ट हाईकोर्ट रोड धरमपेठ नागपुर में ही छह मंजिला एशियन किडनी हॉस्पिटल एंड मेडिकल सेंटर की शुरुआत होने जा रही है. प्रशिक्षित और सेवाभावी स्टाफ के माध्यम से मरीजों को संतोषजनक सेवाएं देनेवाला यह अस्पताल किडनी के इलाज के क्षेत्र में एक मिसाल बनेगा. बदलती जीवनशैली और स्वास्थ की अनदेखी के कारण किडनी के जरूरतमंदों की संख्या तेजी से बढ़ रही है. ज्ञातव्य है कि प्राय : सामान्य बीमारियों से तो मरीज को छुटकारा पा भी लेते हैं, लेकिन किडनी से सम्बंधित बिमारी मरीज को इतनी बेचैन कर देती है कि न जाने कब जीवन की डोर कट जाए. आपको यह जानकार न केवल हैरानी होगी बल्कि प्रसन्नत भी होगी कि नागपुर शहर में किडनी रोग विशेषज्ञ डॉ. समीर चौबे पिछले कई वर्षों से किडनी ग्रस्त मरीजों का न केवल सफल इलाज कर रहे हैं बल्कि अब तक हजारों मरीजों को वे जीवनदान भी दे चुके हैं.

    डॉ. समीर चौबे अब तक हजारों मरीजों को नई जिंदगी दे चुके हैं और यह सिलसिला सतत जारी है. डॉ. समीर चौबे को किडनी ट्रांसप्लांट में महारथ हासिल है और विगत 17 वर्षों में 300 से अधिक किडनी विकारों से पीड़ित मरीजों का किडनी प्रत्यारोपण कर उन्हें नया जीवनदान दिया गया और वे अब अपनी खुशहाल जिंदगी जी रहे हैं. 6 वर्षों में 50 हजार से अधिक मरीजों की वे डायलीसिस कर चुके हैं. बता दें कि डायलीसिस की आवश्कयता उन मरीजों को होती है, जिनकी किडनी डैमेज हो गई है. डायलीसिस कितने समय के अंतराल पर मरीजों को लेना जरूरी है, यह पूछे जाने पर डॉ. समीर चौबे कहते है कि यह मरीजों की किडनी की हालत पर निर्भर है. किसी को सप्ताह में दो बार तो किसी को सप्ताह में 3 बार डायलिसिस कराना पड़ता है. डॉ. समीर चौबे कहते है कि किडनी के मरीजों को और अधिक सुविधाएं उपलब्ध हो, इसी उद्देश्य को ध्यान में रखकर 2 जून 2018 से वे अत्याधुनिक सुविधाओं से परिपूर्ण ‘ एशियन किडनी हॉस्पिटल एंड मेडिकल सेंटर’ का शुभारंभ करने जा रहे हैं.

    हॉस्पिटल होगा अच्छी सुविधाओं से लैस
    एशियन किडनी हॉस्पिटल एंड मेडिकल सेंटर को नागपुर शहर के धरमपेठ इलाके में विभिन्न आधुनिक सुविधाओं के साथ निर्माण के अंतिम चरण में पहुंच चुका है. इस हॉस्पिटल का सम्पूर्ण एडमिनिस्ट्रेशन का दायित्व बखूबी निभा रही श्रीमती स्मिता समीर चौबे ने इन तमाम सुविधाओं की सिलसिलेवार जानकारी देते हुए बताया कि करीब 35 हजार स्क्वायर फीट में तमाम सुविधाएं मुहैय्या कराई जा रही हैं. इस हॉस्पिटल में बेहतरीन लिफ्ट सुविधा, विस्तृत पार्किंग, ग्राउंड फ्लोर से लेकर हर फ्लोर पर सिक्योरिटी व्यवस्था के साथ ही मरीजों की सेवार्थ प्रशिक्षित स्टाफ अपनी सेवाएं प्रदान करेंगे.

    स्मिता ने हॉस्पिटल में उपलब्ध कुछ विशेष सुविधाओं का उल्लेख करते हुए बताया कि यहाँ 20 बेड का आईसीयू यूनिट तथा 27 बेड का स्वतंत्र डायलिसिस यूनिट का निर्माण किया गया है. जहां अत्याधुनिक डायलिसिस मशीनों के साथ ही त्वरित उपचार के आवश्यक चिकित्सा उपकरण उपलब्ध है. इसके साथ ही 3 ऑपरेशन थिएटर है. जहां आपातकालीन स्थिति में मरीजों की शल्यक्रिया की जाएगी. इसके अलावा वाटर हार्वेस्टिंग, सौर ऊर्जा सिस्टम, सीवरेज सिस्टिम के साथ ही बाहर गांव से आनेवाले मरीजों के परिजनों को रहने व खाने की व्यवस्था भी उपलब्ध रहेगी. करीब 50 बेड के इस हॉस्पिटल में 8 वीआईपी रूम, व 3 शेयरिंग रूम है. शेयरिंग रूम में एक साथ दो मरीज रुक सकते हैं. 12 बेड का एक जनरल वार्ड भी है. इसके साथ ही 3 ओ-टी , 2 मीटिंग रूम, सुसज्जीत लैब , सोनोग्राफी यूनिट, फार्मेसी, 250 आसन क्षमता का सुन्दर ऑडिओटोरियम जैसी अनेक सुविधाएं इस हॉस्पिटल में मौजूद रहेंगी.

    अत्याधुनिक सुविधाओं के तहत आईसीयू (मेडिकल एंड सर्जिकल ), हेमोडायलिसिस सेंटर विथ स्टेट ऑफ़ द आर्ट एचडी मशीन, लेटेस्ट आईसीयू इक्विपमेंट, लेटेस्ट ओ-टी इंफ्रास्ट्रक्चर ,स्पेशियस एंड कम्फर्टेबल वेल इक्विपेड प्राइवेट रूम्स, स्पेशियल डीलक्स रूम्स ,इनहॉउस डाइगोनिस्टिक सर्विसेस, इनहॉउसेस कैंटीन विथ सब्सिडाइज़्ड फ़ूड, फ्री फ़ूड फॉर ऑल पेशंट्स, डोरमेट्री फसिलिटिस फॉर रिलेटिव्स ऑफ़ पेशंट् एवं सब्जिडाइज़्ड हेमोडायलिसिस फॉर बीपीएल पेशंट्स जैसी सुविधाएं एशियन किडनी हॉस्पिटल एंड मेडिकल सेंटर भी उपलब्ध होगी. इस तरह की तमाम सुविधाएं एक ही छत के नीचे उपलब्ध होने से दूरदराज क्षेत्रों से आनेवाले मरीजों के लिए यह हॉस्पिटल प्रथम पसंदीदा साबित होगा. इस हॉस्पिटल में न केवल नागपुर व विदर्भ बल्कि पूरे महाराष्ट्र , मध्यप्रदेश , छत्तीसगढ़ के अलावा आंध्रा व पश्चिम बंगाल आदि प्रांतों के किडनी मरीजों को भी डॉ. समीर चौबे की दीर्घ चिकित्सीय अनुभवों का लाभ मिलेगा.

    स्टाफ ट्रेनिंग की विशेष पहल
    अमूमन देखा जाता है कि कई नामी अस्पतालों अथवा सरकारी अस्पतालों की नर्सेस व अन्य कर्मचारियों का व्यवहार वहां इलाज कराने आनेवाले मरीजों व उनके परिजनों के साथ बेरुखी भरा रहता है. पहले ही बिमारी से दुखी मरीज और उनके व्यथित परिजनों के साथ सहानुभूति न मिलने से वे मजबूरन चुप्पी साधे रहते हैं, लेकिन वे इस व्यवहार को भुला नहीं पाते. कहते है कि दुखी व्यक्ति अथवा रोगी व्यक्ति का आधा दर्द सिर्फ मधुर वाणी व हौसला बढ़ाने से ही दूर हो जाता है. इस बात का ध्यान एशियन किडनी हॉस्पिटल एंड मेडीकल सेंटर की चीफ एडमिनिस्ट्रेटिव स्मिता चौबे ने रखते हुए अपने हॉस्पिटल में नए व पुराने स्टाफ के लिए ट्रेनिंग सेंटर खोल रखा है और हर सदस्य को यह ट्रेनिंग लेना अनिवार्य है. इस ट्रेनिंग सेंटर की हेड श्रीमती सारिका चतुर्वेदी हैं जो एक कुशल व प्रसिद्ध काउंसिलर है.

    इस ट्रेनिंग सेंटर में हर कर्मचारी को सिखाया जाता है कि वे मरीजों व उनके साथ आए परिजनों से किस तरह बातचीत करे. उनकी हर छोटी -बड़ी समस्याओं का समाधान कैसे करे व उन्हें योग्य सलाह व मार्गदर्शन देकर उनकी हरसंभव सहायता किस प्रकार की जा सकती है यह विशेष ध्यान रखे. वाकई इस तरह के प्रशिक्षण की आवश्यकता हर अस्पताल में होनी चाहिए और इसकी बेहतरीन मिसाल डॉ. समीर चौबे के इस एशियन किडनी हॉस्पिटल एंड मेडीकल सेंटर ने प्रस्तुत करने का निष्चय किया है. इस प्रशिक्षण का ही असर है कि स्व. बी.एस. चौबे मेमोरियल ट्रस्ट में भी हर महिला और पुरुष कर्मचारी अनुशासनबद्ध नजर आता है और उनके वार्तालाप में विनम्रता झलकती है. विशेष बात यह है कि इस हॉस्पिटल के हर कर्मचारी का जन्मदिन मनाया जाता है और उन्हें उपहार दिए जाते है. यह ही नहीं बल्कि विशेष पर्व भी यहाँ मनाए जाते हैं. इस तरह के आयोजनों का ही परिणाम है कि इस हॉस्पिटल का हर कर्मचारी हमेशा खुश और प्रसन्न नजर आता है. साथ ही मरीजों को भी अच्छा अनुभव आता है.

    2 जून 2018 से धरमपेठ में संपर्क

    एशियन किडनी हॉस्पिटल एंड मेडीकल सेंटर
    213,वेस्ट हाईकोर्ट रोड, धरमपेठ, नागपुर – 10
    हेल्पलाइन -9975015673, 0712- 2436870

    2 जून 2018 से पूर्व रामदासपेठ में संपर्क

    रीनल केअर सेंटर
    इंद्रायणी हॉस्पिटल,रामदासपेठ, नागपुर
    हेल्पलाइन – 9975015673, 0712- 2436870


    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145