Published On : Thu, Dec 5th, 2019

आर्किटेक्ट हरीश निखाड़े ने लायी ‘ ग्रीन बिल्डिंग ‘ की नई तकनीक

नागपुर: आर्किटेक्चर हरीश निखाडे इस फिल्ड में हमेशा नई तकनीक लाते है. जैसे की ‘ ग्रीन बिल्डिंग ‘ समय समय पर अपने फर्म (ड्रीम होम )को अपडेट करते है. लगातार 5 वर्षो से उन्होंने अनेक अवार्ड जीते है. जैसे की हाल ही में रेसिडेंस कैटेगरी में बेस्ट आर्किटेक्ट इन महाराष्ट्र का अवार्ड इन्हे मिला. उन्होंने सही मायने में ग्रीन बिल्डिंग का मतलब समझाया.हरीश ने बताया की लोग ग्रीन बिल्डिंग का मतलब कुछ और ही समझते है. लोगों की नजरों में ग्रीन बिल्डिंग का मतलब बड़े बड़े गार्डन, लॉन बनाना और बिल्डिंग को ग्रीन कलर करना होता है, पर सही मायने में ग्रीन बिल्डिंग का मतलब पर्यावरण को हरा भरा बनाना और रहने की जगह के अंदर एक स्वस्थ वातावरण बनाना है. जिसका बाहरी वातावरण पर भी प्रभाव पड़ता है. उन्होंने बताया कि ग्रीन आर्किटेक्चर निर्माण के लिए एक दृष्टिकोण है जो मानव स्वास्थ और पर्यावरण पर निर्माण परियोजनाओ के हानिकारक प्रभावों को कम कराता है. ‘ ग्रीन आर्किटेक्चर पर्यावरण के अनुकूल निर्माण सामग्री और निर्माण प्रथाओ का चयन करके हवा पानी और पृथ्वी की रक्षा करने का प्रयास करते है.

ग्रीन बिल्डिंग की मदद से भविष्य में कार्बन उत्सर्जन कम करने, जल और ऊर्जा संरक्षण में मदद मिल सकती है. लगातार कम हो रहे जल स्तर के कारण जरुरी है की बननेवाली नई इमारते ग्रीन मानकों का पालन करे. ऊर्जा दक्षता, जल दक्षता, सामग्री दक्षता, इनडोर वायु गुणवत्ता, अपशिष्ट में कमी, कम रखरखाव लागत यह ग्रीन आर्किटेक्चर के सिद्धांत है.