Published On : Fri, Sep 29th, 2017

परीक्षा फॉर्म नहीं भरने से नाराज आयुर्वेदिक कॉलेज के विद्यार्थियों ने किया विरोध प्रदर्शन


नागपुर: परीक्षा फॉर्म डीन की ओर से नहीं भेजे गए. जिसके कारण 180 विद्यार्थी परीक्षा से वंचित हो सकते हैं. परीक्षा फॉर्म भरने की मांग को लेकर सक्करदरा के शासकीय आयुर्वेदिक महाविद्यालय व रुग्णालय के विद्यार्थियों ने कॉलेज के मुख्य गेट को बंद कर आंदोलन किया. इस दौरान सैकड़ों की तादाद में विद्यार्थी प्रदर्शन कर रहे थे. पुलिस की ओर से गेट के अंदर जाने की कोशिश भी की गई. लेकिन प्रदर्शन कर रहे विद्यार्थियों ने इन्हे अंदर जाने नहीं दिया. पुलिस की ओर से आंदोलन रोकने के लिए बल प्रयोग भी किया गया. जिसमें एक छात्रा और एक छात्र जख्मी हुए हैं. विद्यार्थियों का कहना है कि डीन की ओर से पिछले वर्ष क्लास में उपस्तिथि कम होने के बावजूद भी विद्यार्थियों के परीक्षा फॉर्म भरे गए थे. लेकिन इस बार नहीं भरे जा रहे हैं. जिसके कारण विद्यार्थियों का एक साल ख़राब हो सकता है. इन विद्यार्थियों में बीएएमएस के 100 विद्यार्थी हैं और एमडीएमएच के 80 विद्यार्थीयों का समावेश है.


इस बारे में कॉलेज के डीन डॉ.गणेश मुकावार का कहना है कि विद्यार्थियों की थ्योरी में 75 प्रतिशत और प्रैक्टिकल में 80 प्रतिशत की उपस्थिति अनिवार्य है. तभी परीक्षा फॉर्म भर सकते हैं. ऐसा आदेश विश्वविद्यालय की ओर से आया है. उनका कहना है कि पिछले वर्ष जो परीक्षा फॉर्म सब्मिट हुए थे वह उनके मौजूदगी के बिना ही भेजे गए थे.


इस आंदोलन में एबीवीपी के पदाधिकारी और विद्यार्थी भी पहुंच गए थे. जिसके कारण माहौल और तनावपूर्ण हो गया था. एबीवीपी की ओर से नारेबाजी भी की गई. लेकिन इस बारे में कॉलेज के विद्यार्थियों का कहना है कि उनकी ओर से एबीवीपी को आंदोलन में नहीं बुलाया गया था. कॉलेज में हो रहे इस प्रदर्शन को देखने के लिए तमाशबीनो की भीड़ लग गई थी. जिसके कारण ट्रैफिक भी काफी देर तक जाम रहा.