Published On : Fri, Jul 17th, 2015

अमरावती (धारणी) : चक्काजाम रद्द, मोर्चा निकाला


5 हजार आदिवासी हुए शामिल 

17 chakkajam 1
धारणी (अमरावती)।
मेलघाट बाघ परियोजना, पुलिस विभाग व पुलिस प्रशासन पर मनमानी का आरोप लगाते हुए पूर्व विधायक राजकुमार पटेल के नेतृत्तव राष्ट्रवादी कांग्रेस व आदिवायिों ने शुक्रवार को मोर्चा निकाला. जिसमें 5 हजार से अधिक आदिवासी शामिल हुए. इस समय पटेल ने बस स्टेैण्ड परिसर में आदिवारियों को संबोधित किया. रांका द्वारा पूर्व घोषित चक्काजाम बोहरा समाज की ईद व साप्ताहिक बाजर के चलते रद्द किया गया.

कई गांव के आदिवासी शामिल
रांका की ओर से पटेल के नेतृत्व मे आदिवासियों के जंगलों पर अधिकार , वनविभाग के अधिकारियों कर्मचारियों के निवास गांव से हटाकर जंगल में बनवाने, नाका हटाने जैसी कई मांगों को लेकर जयस्थंब चौक से बस स्टैण्ड परिसर तक मोर्चा निकाला गया. इस मोर्चे में धारणी व चिखलदरा तहसील के कई गांव से आए हजारों आदिवासी शामिल हुए. शांती व सुव्यवस्था के मद्देनजर पटेल ने बस स्टैण्ड के सामने आदिवासियों को निवेदन पढक़र सुनाया. हालांकि इस समय आदिवासियों ने जमकर नारेबाजी की.

राजस्व विभाग ने मानी मांगे
इस मोर्चे के दौरान राजस्व विभाग के नायाब तहसीलदार राजगड़े ने संजय निराधार योजना, श्रावण बाल योजना, अन्नपूर्णा योजना, राजीव गांधी योजना के तहत आदिवासियों के मामले एक सप्ताह के भीतर सुलझाने का आश्वासन दिया. इस समय आदिवासियों की समस्याओं पर विस्तृत चर्चा की गई. इस समय एसडीओ तामघाडग़े, पुलिस निरिक्षक नंदकिशोर शेलके, सुधाकर चव्हाण, अरविंद राउत, दिलीप पाटील, आदि ने भी चर्चा की.

तगड़ा पुलिस बंदोबस्त
इस आंदोलन के मद्देनजर शुक्रवार को सबेरे से ही बस स्टैण्ड परिसर सहित शहर के अन्य भागों में तगड़ा पुलिस बंदोबस्त लगाया गया. इस मोर्चे में राकां के शहर अध्यक्ष प्रकाश घाडग़े, पराशर बुलबुले, अनारसिंग रावत, तोहदिलखान, हुकुमचंद मालविय, अनंद जाने, महादेव शनवारे, विजय राउत देवाजी धांडे, मौलाना हबिब, गोपाल मावस्कर, लतिफ पटेल, हिरालाल बारातांडा, रामकिसन सावलकर,सलिम मेमन गणपत शनवारे, हुकुमचंद मालविय, मौलाना हबिब आदि उपस्थित थे. घाडग़े ने आने वाले समय में चक्काजमा आ्रंदोलन करने की बात कही.