Published On : Fri, Oct 12th, 2018

आशीष देशमुख ने बीजेपी की सदस्यता छोड़ी

नागपुर: काटोल विधानसभा क्षेत्र से चुनकर आये विधानसभा सदस्य आशीष देशमुख ने विधानसभा की सदस्यता छोड़ने के बाद बीजेपी को भी राम राम कर दिया है। देशमुख ने बीजेपी की सदस्यता से इस्तीफ़ा दे दिया है और इसकी जानकारी पार्टी को देने के लिए राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह को एक पत्र भी भेजा है। अपने पत्र में उन्होंने सदस्यता छोड़ने के कारणों का जिक्र करते हुए बीजेपी को किसानो,विदर्भ राज्य के मुद्दे के साथ अन्य मुद्दों में पार्टी की विफलता को कारण बताया है।

देशमुख पिछले विधानसभा चुनाव केदौरान ही बीजेपी से जुड़े थे पार्टी ने उन पर भरोषा जताते हुए न केवल उन्हें विधानसभा चुनाव की टिकिट दी थी। बल्कि राज्य के पूर्व कैबिनेट मंत्री और काटोल से मौजूदा विधायक आशीष के चाचा अनिल देशमुख खिलाफ उन्हें मैदान में उतारा था। आशीष ये चुनाव जीत गए लेकिन आधा कार्यकाल बीतते ही उनके सुर बागी हो गए। आशीष देशमुख ने कुछ दिनों पूर्व ही इस्तीफा दिया था।

कई मुद्दों पर बीजेपी को घेरने वाले देशमुख बीजेपी को छोड़ने की पूरी चर्चा करना चाहते है। वो चाहते तो राज्य के किसी नेता के नाम से पत्र भेजकर पार्टी छोड़ने का ऐलान कर सकते थे। लेकिन उन्होंने पत्र बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष को भेजा। इससे पहले भी विधानसभा अध्यक्ष को विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा देने वाला पत्र फैक्स से भेजने के बाद उन्होंने प्रत्यक्ष जाकर उनसे मुलाकात की थी।

बीजेपी से उन्हें निकालने के लिए पार्टी के रुख का देशमुख को इंतज़ार था लेकिन ऐसा हुआ नहीं। देशमुख का बीजेपी से मोहभंग होने के बाद कांग्रेस से प्रेम बढ़ गया है। नवरात्र या फिर दिवाली के दौरान वो कांग्रेस में प्रवेश कर सकते है। इसलिए पार्टी का इंतज़ार न करते हुए उन्होंने खुद पार्टी छोड़ने की पेशकश कर डाली।