Published On : Thu, Jan 17th, 2019

अमित शाह की तबियत ख़राब होने के बावजूद शहर बीजेपी को उनके नागपुर आने की उम्मीद

BJP Logo

Representational Pic

नागपुर: 20 जनवरी को होने वाली विजयी संकल्प सभा में बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के भाग लेने पर संदेह खड़ा हो गया है। बुधवार को स्वाइन फ़्लू होने के चलते शाह देश की राजधानी के एम्स में भर्ती है। बीमार होने के चलते क्या वह सभा में भाग लेने इसे लेकर सवाल उठ रहे है।

बावजूद इसके शहर बीजेपी को उम्मीद है कि शाह इसमें हिस्सा लेंगे। शहराध्यक्ष सुधाकर कोहले के मुताबिक शाह नागपुर नहीं आयेगे ऐसी कोई सूचना पार्टी की तरफ से उनके पास नहीं आयी है। इसलिए वे यह मानकर चल रहे है कि शाह न केवल जल्द स्वस्थ हो जायेगे बल्कि नागपुर में भी आयेगे।

पार्टी की अनुसूचित जाति मोर्चे का राष्ट्रीय अधिवेशन 19 और 20 जनवरी को नागपुर में आयोजित हो रहा है। इसी दौरान अमित शाह की सभा का भी आयोजन किया गया है। नागपुर प्रेस क्लब में आयोजित पत्रकार परिषद में इस आयोजन की जानकारी देते हुए कोहले ने बताया कि अधिवेशन के पूर्व विधायक निवास में मोर्चे की राष्ट्रीय कार्यकारणी की बैठक होगी। जबकि अगले दिन वसंतराव देशपांडे सभागृह में बनाये गए छत्रपति शाहू महाराज परिसर में अधिवेशन होगा। जिसका उद्घाटन केंद्रीय मंत्री नितिन गड़करी के हस्ते जबकि अगले दिन समापन मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के हाँथो होगा।

बैठक में देश भर के बीजेपी के लगभग 150 विधायकों के साथ 40 सांसद उपस्थित रहेंगे। मोर्चे के राष्ट्रीय अध्यक्ष सांसद विनोद सोनकर उद्घाटन सत्र की अध्यक्षता करेंगे। इनके अलावा केंद्रीय सामाजिक न्याय मंत्री थावरचंद गहलोत,राज्य मंत्री अर्जुन सिंह मेघवाल,विजय सांपला के साथ अन्य केंद्रीय मंत्री और राज्य के मंत्री शामिल होंगे। कार्यकारणी की बैठक में देश भर से करीब 5 हजार प्रतिनिधि हिस्सा लेंगे।


जिन्हे दीक्षा भूमि और रेशमबाग स्थित स्मृति भवन के दर्शनों के लिए ले जाया जायेगा। अधिवेशन की व्यवस्था के लिए 27 विभाग बनाये गए है जिसकी जिम्मेदारी में पालकमंत्री चंद्रशेखर बावनकुले और राज्य के सामाजिक न्याय मंत्री राजकुमार बड़ोले के साथ शहर के साथ विधायक और प्रमुख पदाधिकारी संभाल रहे है। कोहले के मुताबिक अधिवेशन के समापन अवसर पर कस्तूरचंद पार्क मैदान में आयोजित विजय संकल्प रैली में विदर्भ भर से 5 लाख लोग उपस्थित रहेंगे।