Published On : Thu, Dec 11th, 2014

यवतमाल : आम्ही बी घडलो, तुम्ही बी घडाना 15 को यवतमाल में

madhukar dhas
यवतमाल।
प्रयास-सेवांकुर संस्था अमरावती द्वारा डा.अविनाश सावजी प्रेरीत आम्ही बी घडलो, तुम्ही बी घडाना इस कार्यक्रम का आयोजन स्थानीय नंदुरकर विद्यालय  श्री सत्यसाई क्रीडारंजन सभागृह में 14 दिसंबर की शाम 6:30 बजे किया गया है. इस अवसर पर मार्गदर्शन करने के लिए पंढरपूर के पालवी की संस्थापिका मंगलताई शाह को निमंत्रीत किया गया है. मंगलताई  का कार्य 100 अनाथ एचआईव्ही पिडीत बच्चों का पालन पोषण करने का है.

2003 से मात्र दो बच्चों से शुरू हुई इस संस्था मे 100 से भी ज्यादा एचआयव्ही पीडीत बच्चे कार्यरत है. इतनाही नही तो इन बच्चों के स्वास्थ्य और शिक्षा की पूरी व्यवस्था उन्होंने की है. इन बच्चों को व्यवसाईक शिक्षा देकर उन्हें खुद के पैरो पर खड़ा रहना भी सिखाया जाता है.

मंगलताई की संस्था को पहले चार वर्ष तक कोई जगह भी किराए से देने के लिए तैयार नही थे. मगर बाद में उनके भगीरथ प्रयास को देखते हुए धिरे-धिरे आज उन्हें तीन एकड़ जगह मिल चुकी है. जिनमें इन बच्चों के अधिकार का  घर बनाया गया है. फिलहाल 100 बच्चों की यह संस्था 500 बच्चों तक बढ़ाने का सपना है. 16 वे वर्ष से ही शादी हो जाने  से उन्होंने खुद की संस्था और समाजसेवा जो माता पिता और मामा से मिली थी, उसका उपयोग लोगो के  लिए किया. और उनका घर ही समाजसेवा का केंद्र बन गया. 30 साल पहले उन्होंने कुष्ठरोगियों के कॉलनी मे  जाकर उनके जखमो पर मलम लगाने का काम, भोजन देने का काम, बालक आश्रम मे जाकर बच्चों को हसाने का काम भी किया है. आज उनके इस उपक्रम में उनकी बेटी, जमाई, पुत्र और बहु का भी सक्रीय योगदान है.

इस बात मंगलताई शाहर यवतमाल, नागपूर और अमरावती मे उपस्थित रहकर मार्गदर्शन करनेवाली है. हर माह के दुसरे शनिवार को अमरावती मे तो हर दुसरे रविवार को सुबह नागपूर मे और उसी शाम को यवतमाल मे उनका कार्यक्रम नंदुरकर विद्यालय में शाम 6:30 से 8:30 बजे तक किया जाएगा. विभिन्न क्षेत्र में सराहनिय कार्य करनेवाले आयडॉल्स को बुलाकर उनके जीवनयात्रा का परिचय देनेवाला यह कार्यक्रम हर माह के दुसरे शनिवार को अमरावती और रविवार की सुबह नागपूर एवं शाम यवतामल में आयोजित किया जाता है. यह कार्यक्रम यवतमाल में ९वां है. इस कार्यक्रम में पंढरपूर की पालवी की संस्थापिका मंगला शाह शामिल होगी. इसमें शामिल होने का आवाहन आयोजकों द्वारा किया गया है.