Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!
    | | Contact: 8407908145 |
    Published On : Thu, Oct 11th, 2018

    ‘अंबे मां, अंबे मां, लागड़ी आमरी….’ पर थिरके युवा

    नागपुर: श्री नवरात्र महोत्सव मंडल, क्वेटा काॅलोनी लकड़गंज में नवरात्र पर गुजराती संस्कृति पर आधारित रास गरबा पर माता के भक्त व युवाओं का उत्साह देखते ही बन रहा है।

    नवरात्रि के दूसरे दिन सर्वप्रथम माता की आरती यजमान अमृत आचार्य परिवार, भजनलाल कंधारी परिवार, चंद्रकांत भाई कामदार परिवार, केवलकृष्ण नेब परिवार, काकूभाई वैगड़ परिवार, नवरात्र दवाखाना के डा. नरेश नेब, डा. प्रमोद पत्की, सुरेखा साठवने, डा. विद्याधर जोशी, डा. निशा सोमैया, डा. सुचिमा बंसुले ने की।

    तत्पश्चात एक से बढ़कर एक माता की भेंटों ने भक्तों को गरबा की धुन पर थिरकने को मजबूर कर दिया। बाल गायकों सांची पुरोहित, कुंजल व्यास ने नन्हें बच्चों के गरबे को आवाज दी वहीं कोलकाता के गायक कलाकारों ने ‘अंबे मां, अंबे मां लागड़ी आमरी…..,’ ‘तारा विना श्याम एक लडु लगे…..’, ‘गोरी राधा ने काडो छ श्याम…’ ‘आज नो चादलिये मन….’, हे नाम रे सबसे बड़ा तेरा नाम…’ गीत गरबा स्टाइल में गाया सभी मंत्रमुग्ध हो गए। कोलकाता के गायक मधुभाई रायठट्ठा, जेनी भट्ट, नागपुर के गायक प्रणय कुथे, आकांशा नागरकर सुमधुर गीतों की बहार पेश कर रहे हैं। वीएनवी ग्रुप म्युजिक के साजिंदे गरबे की गुजराती धुनें बजाकर गायक कलाकारों का बखूबी साथ दे रहे हैं।

    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145