| | Contact: 8407908145 |
    Published On : Wed, Mar 1st, 2017
    nagpurhindinews | By Nagpur Today Nagpur News

    पश्चिम बंगाल में भाजपा नेताओं पर बच्चों की तस्करी का आरोप


    पश्चिम बंगाल/नागपुर: 
    पश्चिम बंगाल में एक से चौदह साल की उम्र के 17 बच्चों को विदेशियों को बेचने के आरोप में भारतीय जनता पार्टी की राज्य इकाई के कई नेता आरोप के घेरे में हैं। यही नहीं पश्चिम बंगाल भाजपा के प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय और अभिनेत्री रूपा गांगुली पर भी पुलिस उंगलियाँ उठा रही है। बच्चों की तस्करी से जुड़े मामले में भाजपा नेतृत्व पर आरोप लगने के बाद से पार्टी की बहुत भद पिट रही है। हालाँकि भाजपा ने इसे राजनीतिक साजिश करार दिया है।

    गत दिनों पश्चिम बंगाल सीआईडी ने भारत-नेपाल सीमा से जूही चौधरी नामक महिला को गिरफ्तार किया। बताया जा रहा है कि जूही चौधरी उस गैंग की सूत्रधार है, जिसने 1-14 साल के 17 बच्चों को विदेशियों को मोटे दाम में बेच दिया। कोलकाता के विमला शिशु गृह की संचालक चंदना चक्रवर्ती को पुलिस ने 17 फरवरी को ही गिरफ्तार कर लिया था। बेचे गए ज्यादातर बच्चे इसी शिशु गृह के थे। चंदना से कड़ी पूछताछ में पुलिस को मालूम हुआ कि पश्चिम बंगाल भाजपा की नेता जूही चौधरी, राज्य में पार्टी के प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय और अभिनेत्री भाजपा से जुड़ी रूपा गांगुली से मिलकर मामले को चलता करने में लगी हुई हैं। चंदना की जानकारी के आधार पर पुलिस ने जूही चौधरी को गिरफ्तार किया।

    सीआईडी ने इस मामले में अब तक चार लोगों को गिरफ़्तार किया है। इन लोगों पर नवजात शिशु और बच्चों का बॉर्डर पर तस्करी करने का आरोप है। इनमें विमला शिशु गृह की मुख्य एडॉप्शन अधिकारी सोनाली मोंडल, अध्यक्ष चंदना चक्रबोर्ती और चंदना के भाई मानस भौमिक शामिल हैं। इन तीनों पर 1-14 साल की आयु के 17 बच्चों को उच्चे दामो पर विदेशियोॆ को बेचने का आरोप है। इन लोगों ने अपने काम को सही साबित करने के लिए फर्जी तरीके से ये दिखाया कि इन बच्चों को उनके माता-पिता ने दूसरे लोगों को गोद दिये जाने के लिए अपने बच्चे सौंपे थे। और इस पूरी प्रक्रिया को सरकारी क़ानूनों के मुताबिक बताया गया है।

    हालांकि बीजेपी ने इन आरोपों से इनकार किया है। बीजेपी नेता कैलाश विजयवर्गीय ने कहा है कि कोलकाता पुलिस हमारे ख़िलाफ़ साज़िश रच रही है। और इन दिनों कोलकाता पुलिस पर तृणमूल कांग्रेस का कब्जा हो गया है। कैलाश विजयवर्गीय के मुताबिक कोलकाता पुलिस ने पहले बीजेपी नेता जॉयप्रकाश मजूमदार और शिशिर बाजौरिया को निशाना बनाया और कोलकाता पुलिस मेरे ख़िलाफ़ साज़िश रच रही है।

    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145