Published On : Fri, Dec 12th, 2014

नागपुर : शिक्षकों को नियमबाह्य ठहराया गया अतिरिक्त

Advertisement

 

  • न्यू इंग्लिश हाई स्कूल मोहपा के मुख्याध्यापक पर आरोप
  • जि.प. शिक्षणाधिकारी (मा.) ने भेजी नोटिस
  • तीन दिनों में खुलासा करने की चेतावनी

सवांदाता / निशांत टाकरखेड़े

नागपुर। कलमेश्वर पंचायत समिति अंतर्गत आनेवाले न्यू इंग्लिश हाई स्कूल, मोहपा के मुख्याध्यापक दामोदर चापके ने अतिरिक्त शिक्षकों की जानकारी मुहैया करते हुए शिक्षणाधिकारी (मा.) कार्यालय को दिग्भ्रमित कर नियमबाह्य पद्धति से पुराने शिक्षकों को अतिरिक्त ठहरा दिया. इससे मामला तूल पकड़ा फलत: शिक्षणाधिकारी ने उक्त मुख्याध्यापक को क्र.जि.प.ना./ माध्य./ आशस/ 410/ 2014 कार्यालय शिक्षणाधिकारी (मा.) जिला परिषद नागपुर अनुसार पत्र के रूप में नोटिस भेज कर तीन दिनों के भीतर उक्त मामले का सही जानकारी मुहैया कराने की चेतावनी दी. इसके कारण अब मुख्याध्यापक की हवाएँ उड़ी हुई हैं.
मोहपा शिक्षण मण्डल मोहपा परिसर का सबसे पुराना अथक परिश्रम से उभर कर आयी अति नामचीन संस्था है. समायोजन पद्धति से सभी शिक्षण संस्थाओं के अतिरिक्त शिक्षकों की जानकारी शिक्षणाधिकारी कार्यालयों को देना अनिवार्य होने से न्यू इंग्लिश हाई स्कूल, मोहपा ने भी तीन शिक्षकों के नाम अतिरिक्त शिक्षक के रूप में शिक्षणाधिकारी कार्यालय को भेजा.

Advertisement
Advertisement

उसमें गजेन्द्र तिनखेड़े, कैलाश लांजेवार व पोतले के नामों का समावेश है परंतु उक्त शिक्षक पिछले कई वर्षों से शिक्षक पद पर कार्यरत होने से उनके नाम अतिरिक्त के रूप में भेज दिया. जिससे हड़कम्प मच गया. इसमें शिक्षक तिनखेड़े का काटोल-नागपुर मार्ग पर दुर्घटना हो जाने से वे कई दिनों से वैद्यकीय उपचार ले रहे हैं. अतिरिक्त शिक्षकों की सूची में डाले जाने के आभास होते ही उक्त शिक्षकों ने शिक्षणाधिकारी (मा.) नागपुर के पास मदद के लिए दौड़े. उक्त शिक्षकों के मतानुसार उनकी नियुक्ति के बाद संस्था में अनेक शिक्षकों की नियुक्ति की गई है. कनिष्ठ शिक्षकों को अतिरिक्त न ठहराते हुए उन्हें अतिरिक्त ठहराये जाने की बात बतायी.

शिक्षणाधिकारी (मा.) ने 3 दिसम्बर 2014 को उक्त मुख्याध्यापक को पत्र दिया. शैक्षणिक सत्र 2013-14 के समूह मान्यता अनुसार अतिरिक्त हुए शिक्षक / शिक्षकेत्तर कर्मचारियों की जानकारी मुख्याध्यापक को उक्त कार्यालय भेजी है. इसमें कुल तीन अतिरिक्त शिक्षकों के नाम भेजी है, परंतु स्कूल में कार्यरत जिनकी सेवा तीन वर्ष पूर्ण होने की है, ऐसे शिक्षा सेवकों की सेवा समाप्त न करते हुए मुख्याध्यापक ने नियमित शिक्षकों के नाम अतिरिक्त के रूप में भेजने का जिक्र किया गया है, जो नियमबाह्य है. मुख्याध्यापक ने शिक्षणाधिकारी (मा.) कार्यालय को दिग्भ्रमित किये जाने का भी उल्लेख है. इसलिए मुख्याध्यापक पद की मान्यता क्यों न रद्द कर दी जाए, ऐसा सवाल शिक्षणाधिकारी (मा.) ने किया. उक्त मामले का खुलासा तीन दिनों के भीतर प्रस्तुत कर जिन शिक्षा सेवकों की सेवा तीन वर्ष पूर्ण होने की है, ऐसे शिक्षा सेवकों की सेवा समाप्त करें.

ऐसी रिपोर्ट शिक्षणाधिकारी (मा.) के कार्यालय में प्रस्तुत करें, अन्यथा स्कूल की मान्यता रद्द करने की कार्रवाई की जाएगी. यह ताकीद शिक्षणाधिकारी गुढ़े ने उक्त मुख्याध्यापक को दी. जानकारी के लिए (1) म. आयुक्त (शिक्षण) म.रा. पुणे (2) म. शिक्षण संचालक (मा. व उच्च मा.) महाराष्ट्र राज्य, पुणे (3) म. शिक्षण उपसंचालक, नागपुर विभाग, नागपुर को उक्त पत्र की प्रतिलिपि जानकारी सहित भेज दी गई है. मुख्याध्यापक न्यू इंग्लिश हाई स्कूल, मोहपा को यह पत्र मिले तीन दिन हो जाने के बाद उन्होंने प्रस्तुत किया गया खुलासा की जानकारी अब तक मिली नहीं. मुख्याध्यापक ने कौन सी जानकारी उपलब्ध करायी है, फिलहाल रहस्य बना हुआ है.

Representational Pic

Representational Pic

Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement