Published On : Tue, Oct 6th, 2020

अंकिता शाह मामले में दोषी पुलिस के खिलाफ कार्रवाई की जानी चाहिए

– मुख्यमंत्री और गृह मंत्री से मांग की

नागपुर/मुम्बई – आरटीआई कार्यकर्ता अनिल गलगली ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे और गृह मंत्री अनिल देशमुख से नागपुर पुलिस आयुक्तालय के तहत लकडगंज पुलिस स्टेशन में एड अंकिता शाह की पिटाई में शामिल अधिकारियों और कर्मचारियों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की है।

आरटीआई कार्यकर्ता अनिल गलगली ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे, गृह मंत्री अनिल देशमुख, पुलिस आयुक्त अमितेश कुमार को लिखे पत्र में उल्लेख किया है कि एड अंकिता शाह की 25 मार्च, 2020 को नागपुर पुलिस आयुक्तालय के तहत लकडगंज पुलिस स्टेशन में पिटाई की गई थी। यह 2 अक्टूबर 2020 को सूचना के अधिकार के तहत प्राप्त सीसीटीवी फुटेज से स्पष्ट होता है। इस संबंध में तत्काल कार्रवाई अपेक्षित है। एड अंकिता शाह ने भी शिकायत की है।

नागपुर में एड अंकिता शाह जो एक आरटीआई कार्यकर्ता और कुत्तों के अधिकारों के लिए लड़नेवाली कार्यकर्ता हैं। किसी अधिकारी द्वारा पीटने का तरीका वास्तव में निंदनीय है। सभी अधिकारी दरवाजे पर खड़े हैं और अंकिता को इस तरह से लाना और दुर्व्यवहार करना कानूनन सही नहीं है।

आज भी, आम नागरिक पुलिस स्टेशन जाने से डरते हैं और अक्सर नागरिकों के साथ अच्छा व्यवहार नहीं किया जाता है,यह तथ्य इस घटना से रेखांकित हो रहा है। अगर ऐसे दोषी लोगों को महाराष्ट्र में कड़ी सजा दी जाती है, तो निश्चित रूप से भविष्य में किसी भी पुलिस स्टेशन में ऐसा नहीं होगा। यह अपेक्षा अनिल गलगली ने व्यक्त की है।