Published On : Wed, Jun 28th, 2017

धंतोली गार्डन से भगोड़े पुलिस इंस्पेक्टर सुभाष काले गिरफ्तार

Kuhi PI Subhash Kale escapes

Kuhi PI Subhash Kale

नागपुर: एक होटल व्यवसायी से कुही थाने के पुलिस निरीक्षक सुभाष काले व उपनिरीक्षक संजय चव्हान द्वारा 2 लाख रुपए की रिश्वत मांगने के आरोपों में भ्रष्टाचार निरोधी ब्यूरो ने गिरफ्तारी की कार्रवाई मंगलवार को की थी। जिसके बाद नाटकीय ढंग से शौच जाने के बहाने पुलिस निरीक्षक सुभाष काले भाग निकलने में कामयाब रहे। लेकिन बुधवार शाम 7 बजे धंतोली गार्डन परिसर से उन्हें एसीबी की टीम ने धर दबोचा और गिरफ्तार कर लिया।

दरअसल दोनों पुलिस अधिकारियों ने होटल अडवाणी के संचालक से रिश्वत की मांग की थी। दस लाख की रिश्वत की मांग पर 5 लाख देने राजी हुए होटल व्यवसायी ने पुलिस को सोमवार को चालीस हजार रुपए दिए। लेकिन बाद में मंगलवार को बाकी रकम देने की बात होटल व्यवसायी ने कही। इसके बाद इस मामले में खुद को फंसता देख होटल संचालक ने एंटी करप्शन ब्यूरो को मामले की जानकारी दी और मदद मांगी। जिसके बाद दोनों पुलिस अधिकारियों को जाल बिछाकर एसीबी ने रंगे हाथों रिश्वत लेते पकड़ा। कार्रवाई में फंसता देख पुलिस निरीक्षक काले होटल के पीछे शौच के बहाने गए और एसीबी अधिकारी को पिस्तौल दिखाकर फरार हो गए।

इसके बाद बुधवार शाम सात बजे उन्हें धंतोली गार्डन से एंटी करप्शन ब्यूरो की टीम ने धर दबोचा। इन पर रिश्वत लेने के साथ फरार होने का भी अलग से मामला दर्ज किया गया है। इस कार्रवआई में एसीबी पुलिस अधीक्षक पी.आर. पाटील का मार्गदशन रहा जबकि पुलिस उपनिरीक्षक शंकर शेलके, पुलिस निरीक्षक गणेश कदम, रमाकांत कोकाटे, कविता ईसारकर, पुलिस सिपाही प्रवीण पडोले, चालक उत्तम दास कार्रवाई में शामिल रहे।