Published On : Wed, Dec 3rd, 2014

देऊलगांवराजा : दोस्त ने की दोस्त की ट्रक से कुचलकर हत्या

Accused of Dulgavraja murder by truck
देऊलगांवराजा (बुलढाणा)।
ट्रांसपोर्ट कंपनी में अपने दोस्त को स्थायी नौकरी मिलने की जलन से अपने ही दोस्त पर ट्रक चलकर उसकी निर्ममता से हत्या कर दी. यह घटना 30 नवंबर को उजागर हुई.  जिससे परिसर में हड़कम्प मच गया है. पुलिस 24 घंटे के अंदर ही आरोपी को गिरफ्तार किया गया.

प्राप्त जानकारी के अनुसार चिखली तालुका के ग्राम वैरागड़ निवासी अंकुश नवनाथ बांगर (25) को पुणे की संगम ट्रांसपोर्ट कंपनी में ट्रॅक्टर के स्पेअर पार्ट नागपुर में पहुँचाने के लिए गाडी चालक पद पर नियुक्त किया था. अंकुश 5-6 महीने पहले गांव के समीप टाकरखेड़ा हेलगा निवासी अमोल मुरलीधर कदम (25) को अपने साथ काम करने के लिए पुणे लेकर गया. समय के साथ अंकुश काम पर अनुपस्थित रहने लगा, जिससे कंपनी ने अमोल को उसकी जगह नियुक्त कर अंकुश को कंपनी से निकाल दिया. इस कारण से अंकुश को घुस्सा आया और अमोल का खुन करने का ठान लिया.

29 नवंबर को पुणे से ट्रॅक्टर के स्पेअर पार्ट लेकर दोनों नागपुर आ रहे थे. रास्ते में दोनों ने ढाबे पर खाना खाया. देवुलगांवराजा की ओर आते हुए अंकुश ने ट्रक खुद चलाया और अमोल को सोने के लिए कहाँ. देवुलगांवराजा शहर के बाहर जानेवाले सुनसान बायपास पर ट्रक रोक कर, अमोल के सर पर लोहे के ट्रॉमी से जोरदार वार किया. अधिक खून बहने से अमोल बेहोश हो गया. बेहोशी की हालत में ही अंकुश ने उसे निचे उतारकर रास्ते पर रख दिया. खून का इरादा रखने वाले अंकुश ने अमोल के सर पर तीन बार ट्रक का पहिया चलाया. इस घटना में अमोल का सिर चकनाचूर हो गया और उसकी मौके पर ही मौत हो गई.  किसी को शक ना हो जाए और घटना दुर्घटना लगे इसलिए अमोल के कपडे उतार लिए.

30 नवंबर को घटना का पता चलने पर थानेदार अम्बादास हवाले ने जिला पुलिस अधीक्षक श्यामराव दीघावकर और एसडीपीओ प्रशांत परदेसी के मार्गदर्शन में मृतक के फोटो सभी जगह भेजकर पथक को रवाना किया. चौबीस घंटे की भीतर ही आरोपी अंकुश बांगर को गिरफ्तार किया गया. इस घटना की कार्रवाई में शे. जाफर, पंजाब साखरे, वाहन चालक मुले शामिल थे. न्यायालय ने आरोपी को सात दिन के पुलिस रिमांड में भेजा है.