Published On : Tue, Apr 10th, 2018

90 प्रतिशत स्कूलों में नहीं है सर्विस रोड

Maharashtra Energy Minister Chandrashekhar Bawankule
नागपुर: नागपुर शहर की 90 प्रतिशत स्कुल में सर्विस रोड नहीं है. खुद की पार्किंग भी नहीं है. सरकारी सड़कों का ही उपयोग किया जाता है. पोद्दार इंटरनेशनल स्कुल में इसी कारण दुर्घटना हुई है. इस घटना के मद्देनजर नागपुर की सभी स्कूलों को सर्विस रोड व खुद की पार्किंग की व्यवस्था करनी है. इस सम्बन्ध में निर्देश जिलाधिकारी और एनएमआरडीसी द्वारा सभी स्कूलों को नोटिस दिए गए है. ऐसी जानकारी पालकमंत्री चंद्रशेखर बावनकुले ने दी. वे पत्र परिषद् में बोल रहे थे.

इस दौरान पालकमंत्री ने कहा कि नए कानून के अनुसार स्कूलों के लिए सर्विस रोड आवश्यक है. वे सरकारी सड़क का उपयोग नहीं कर सकते. नागपुर के अनेक स्कूलों में सर्विस रोड नहीं है. वह स्कूलों को बनाना होगा साथ ही इसके स्कूलों में पार्किंग की समस्या भी काफी है. स्कुल संचालको को स्कुल का एफएसआय बढाकर बिल्डिंग के निचे पार्किंग की व्यवस्था करनी चाहिए. इसके लिए समय लगेगा लेकिन इसे करने की बात भी पालकमंत्री बावनकुले ने कही.

कई दिनों से दाभा स्थित स्कुल का मामला चल रहा है. इस मामले में पालकमंत्री चंद्रशेखर बावनकुले ने कहा कि दाभा के सेंटर पॉइंट स्कुल के पास से हाइटेंशन लाईन गई है. जिसके कारण विद्यार्थियों की जान को धोका है. इस संदर्ब में स्कुल को नोटिस दिया गया है. उसके बाद भी अगर सुधार नहीं हुआ तो कार्रवाई की जाएगी. साथ ही हाइटेंशन लाइन को भूमिगत करने का खर्च 2700 करोड़ रुपए है तो वही मोनोपोलेट करने का खर्च 250 करोड़ है. जिसके कारण मोनोपोलेट करने का विचार भी किया जा रहा है.