Published On : Tue, Feb 24th, 2015

मौदा : 9 लूटेरे पुलिस हिरासत में


दिनदहाड़े चाकू से जख्मी करके लुटा था तीन लाख का माल

13 तोला सोना जब्त

मौदा (नागपुर)। शहर के लापका रोड परिसर में दिन दहाडे की लुटपाट में सभी आरोपियों को पकड़ने में पुलिस को सफलता हाथ लगी है. लूटेरों ने मौदा के तंटू हटवार को चाकू से जख्मी करके 2 लाख 80 हजार के सोने के आभूषण और नगद 24 हजार ऐसे कुल 3 लाख 4 हजार का माल लूटा था. आरोपियों में मौदा निवासी बंटी कावले (26), आझाद खान (22) मौदा, संदीप वासनिक (27), विशाल सहारे (24), रामटेक निवासी विशाल बाम्बोले (28), मोहन हेमराज महाजन (24), नागपुर निवासी विलास लांजेवार (41), नंदू पिंजारकर (32), उमेश भरने शामिल है.

आरोपियों ने बनाई पूर्व योजना
14 फरवरी को मौदा के लापका रोड निवासी तंटू उर्फ़ बलिराम कंठीराम हटवार के घर दोपहर 1 से 1:30 बजे के करीब लूटेरों ने भाड़े की खोली देखने के बहाने फरयादी पर चाकू से वार किया और शरीर पर चढ़े सोने के आभूषण और नगद रकम लेकर भाग फरार हो गए. बता दे कि फरयादी के बेटे मुंबई में रहते है. हटवार ने कुछ दुकान किराय से दिए है. जिसमे एक दुकान सलून की है. आरोपी बंटी कावले हमेशा इस सलून में आता रहता था. तंटू हटवार के पास अधिक सोना और पैसा है ऐसा उसके ध्यान में आया. उसने संदीप और विशाल के साथ हटवार को लुटने की योजना बनाई. तीनों ने 13 फरवरी को विशाल, मोहन और आझाद से संपर्क करके रामटेक बस स्थानक परिसर में बैठक ली और योजना को अंतिम रूप दिया.

पुलिस ने लिया आधुनिक तंत्रज्ञान का सहारा
इस योजना के अनुसार 14 फरवरी को दोपहर 1 बजे के दौरान बंटी हटवार के घर के सामने रास्ते पर खड़ा था. हटवार घर पर अकेला है ऐसा उसने बाकि साथियों को बताया और सलून में जाकर बैठा. इस दौरान हटवार भी इस सलून में थे. हटवार सलून से घर जाने पर बंटी ने बाकी लोगों को सूचना दी. विशाल, मोहन और आझाद ने हटवार के घर प्रवेश करके किराय की खोली के बारे में पुछताच की. कुछ समझने के पहले ही तीनों ने हटवार को रसोईघर में ले जाकर चाकू से वार कर जख्मी किया और उनके शरीर पर चढे सोने के आभूषण तथा नगद रकम लुटकर भाग गए. विशाल और संदीप को मोटरसायकल से भंडारा छोडा गया. लूट के कुछ दिनों बाद चोरी के सोने के आभूषण और नगद आपस में बांटे गए. लेकिन मौदा पुलिस ने आधुनिक तंत्रज्ञान का सहारा लेकर 4 दिन में सभी आरोपियों को गिरफ्तार किया. पूर्व योजना के बारे में नागरिकों का अंदाजा सही साबित हुआ.

13 तोले सोना और नगद जब्त
इस लूट में सभी आरोपियों को गिरफ्तार किया गया. उनकी गंभीरता से पुछताछ की गई. जिसमे 13 तोले सोना और नगद 24,000 रुपये जप्त किए. आरोपी बंटी कावले मुख्य सुत्रधार होकर वो मौदा शहर में रहकर पुरी कार्रवाई पर नजर रखे हुआ था. पुलिस को उसपर संदेह होने से उसे हिरासत में लिया और पूछताछ की. लूटेरों ने विलास लांजेवार के माध्यम से चोरी के माल का निपटारा किया. लुटेरों ने नागपुर के वैभव ज्वेलर्स के मालिक नंदू पिंजारकर और रामटेक के भरने ज्वेलर्स के मालिक उमेश भरणे को चोरी का माल बेचा. जिससे पुलिस ने दोनों ज्वेलर्स मालिकों को गिरफ्तार किया. पुलिस ने आरोपियों 1 सोने की चैन, सोने का ब्रेसलेट, 4 मोबाइल और हिरो एच.एफ. मोटरसायकल जब्त की है.

विशाल कुख्यात अपराधी
इस मामले में आरोपी विशाल बाम्बोले कुख्यात अपराधी होने की जानकारी पुलिस को दी. वो कुही के पडोले हत्या मामले में आरोपी था. सिवाय रामटेक के कुछ घटनाओं को अंजाम दे चूका था. जिससे उसे रामटेक पुलिस के हवाले किया गया. इन लुटेरों से अन्य घटना सामने आने की संभावना है.

Representational Pic

Representational Pic