Published On : Fri, May 10th, 2019

2 दिन में 6 युवतियां गायब

जमी खा गई.. या आसमां निगल गया

missing

Representational Pic

गोंदिया: महाराष्ट्र के अंतिम शोर पर बसे पूर्व विदर्भ के गोंदिया जिले से लगातार नाबालिग छात्राओं और युवतियों के अचानक गायब होने का सिलसिला जारी है। यह गायब होने वाली लड़कियां अपनी मर्जी से घर से चली जाती है, या इनकी मानव तस्करी कर इन्हे अवैध तरीके से बड़े शहरों अथवा अरब देशों में किसी संगठित गिरोह द्वारा भेजा जा रहा है? इस मुद्दे पर भी अब बहस जारी है। अपहरण की घटना से जहां अभिभावकों में दहशत व्याप्त है वहीं कानून व्यवस्था की दिन प्रतिदिन बदहाल हो रही स्थिती से अब पुलिस प्रशासन की कार्यप्रणाली पर भी उंगली उठने लगी है।

2 दिनों के भीतर कच्ची उम्र की 4 युवतियों व 2 महिलाओं इस तरह 6 के अचानक गायब हो जाने के मामले दर्ज होने से यह कयास लगाये जा रहे है कि, कहीं इन सबों के पीछे कोई मानव तस्करी से जुड़ा संगठित गिरोह तो जिले में काम नहीं कर रहा?

Advertisement

चिचगड़ थाना अंतर्गत आने वाले देवरी तहसील के ग्राम तिड़का निवासी 19 वर्षीय युवती पड़ोस में जा रही हूं यह कहकर सुबह 9 बजे घर से निकली थी लेकिन घर नहीं लौटी। परिजनों ने उसकी हर जगह तलाश की किन्तु बेटी नहीं मिली। आखिरकार 40 वर्षीय फिर्यादी मां ने थाने पहुंच बेटी के गुमशुदगी की शिकायत दर्ज करायी।

Advertisement

दुसरी घटना रावणवाड़ी थाना क्षेत्र के ग्राम निलज (दासगांव) में सामने आयी है। 19 वर्षीय युवती अपने घर की बकरियों को खेत में चराने के लिए शाम 4 बजे घर से निकली थी। देर शाम तक वह वापस नहीं लौटी। 43 वर्षीय पिता बेटी को ढूंढने खेत पहुंचा लेकिन वह नहीं मिली। आस-पड़ोस, सगे-संबंधी व रिश्तेदारों के यहां भी खोज-खबर ली गई। सफलता न मिलने पर 8 मई को पिता ने रावणवाड़ी थाना कोतवाली पहुंच बेटी की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करा दी।

सालेकसा थाना क्षेत्र के ग्राम पांढरवानी निवासी 21 वर्षीय युवती यह छत्रपति शिवाजी पॉलीटेकनिक कॉलेज देवरी में पेपर देने गई थी। पेपर छुड़ाने के बाद युवती वापस घर नहीं पहुंची। चिंतित 45 वर्षीय पिता ने बेटी की सहेलियों व सगे-संबंधी रिश्तेदारों के यहां खोजबीन की लेकिन सफलता हाथ न लगने पर 8 मई को थाने पहुंच पिता ने बेटी के गायब होने की शिकायत दर्ज करायी है।

चौथी घटना गोरेगांव तहसील के ग्राम कुल्हाड़ी में घटित हुई। 8 मई के दोपहर 3 बजे साढ़े 18 वर्षीय युवती यह घर में बिना को बताए कहीं निकल गई। बेटी के घर पर मौजुद न होने से 42 वर्षीय मां ने आस-पड़ोस में उसकी खोजखबर ली लेकिन बेटी का कहीं पता नहीं चला। 9 मई को थाने पहुंच पीड़ित मां ने गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करायी है।

पांचवी घटना गोंदिया ग्रामीण थाना क्षेत्र के नवगांवकला में घटित हुई जहां घर से अचानक 42 वर्षीय महिला के लापता हो जाने से परिसर में खलबली मच गई। इस संदर्भ में 25 वषीर्र्य बेटे ने 8 मई को थाने पहुंच मां के लापता होने की शिकायत दर्ज करायी है।

सूत्रों ने जानकारी देते बताया, 7 मई के सुबह 10 बजे फिर्यादी की मां और उसकी दादी घर पर ही मौजुद थी। फिर्यादी कुछ देर के लिए अपने दोस्त के घर गया था लेकिन दोप. 12 बजे वापस लौटा तो उसकी मां घर से नदारद थी। आसपड़ोस व सगे- संबंधी रिश्तेदारों के यहां खोजबीन की गई लेकिन सफलता हाथ नहीं लगी।

छठवी घटना गोंदिया शहर थाना अंतर्गत आनेवाले सिंधी कॉलोनी के शंकर चौक इलाके में घटित हुई है। 7 मई के दोपहर 35 वर्षीय महिला यह घर से बिना किसी को कुछ बताए कहीं निकल गई। खोजखबर के बाद भी जब पत्नी का कहीं पता नहीं चला तो 40 वर्षीय फिर्यादी पति ने 8 मई को शहर थाने पहुंच पत्नी के अचानक गायब हो जाने पर गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करायी है।

– रवि आर्य

Advertisement

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

 

Advertisement
Advertisement
Advertisement