Published On : Wed, May 9th, 2018

10 मई को नागपुर विभाग में 51 हजार विद्यार्थी देंगे सीईटी की परीक्षा

Exam
नागपुर: इंजीनियरिंग, फार्मेसी के साथ ही बीटक व बीएससी एग्रीकल्चर के लिए 10 मई को एमएचटी-सीईटी परीक्षा ली जाएगी. नागपुर विभाग में 151 परीक्षा केंद्रों पर 51 हजार 27 विद्यार्थी यह परीक्षा देंगे. विभाग में नागपुर जिले में सर्वाधिक 26361 परीक्षार्थी 64 केंद्रों पर परीक्षा देंगे. वहीं गड़चिरोली में सबसे कम 2185 परीक्षार्योंथी के आवेदन भरने से 9 परीक्षा केंद्र स्थापित किए जाने की जानकारी तकनीकी शिक्षा व प्रशिक्षण सहसंचालक गुलाबराव ठाकरे ने पत्रकारों को दी. महाराष्ट्र में 8 विभागों में एक साथ सीईटी परीक्षा ली जाएगी. एक ही दिन में गणित, फिजिक्स व केमिस्ट्री तथा बायलॉजी की परीक्षा ली जाएगी. गणित का पहला पेपर सुबह 10 बजे, फिजिक्स व केमिस्ट्री का दूसरा पेपर दोपहर 12.30 बजे और बायॉलॉजी का तीसरा पेपर दोपहर 3 बजे लिया जाएगा . गणित और बायोलॉजी के पेपर सौ-सौ मार्क्स के रहेंगे, वहीं फिजिक्स व केमिस्ट्री के पेपर 50-50 मार्क्स के रहेंगे. तीनों पेपर के लिए डेढ़-डेढ़ घंट का समय दिया जाएगा.

सीईटी परीक्षा उत्तीर्ण करने वाले विद्यार्थियों की गुणवत्ता के आधार पर शासकीय महाविद्यालयों की सभी सीटों तथा निजी शिक्षा संस्थाओं द्वारा संचालित महाविद्यालयों में 85 प्रतिशत सीटों पर प्रथम वर्ष में प्रवेश दिया जाएगा. 15 प्रतिशत सीटें जेईई परीक्षा में गुणवत्ता के आधार पर भरी जाएंगी. इंजीनियरिंग, फार्मेसी के लिए इससे पहले सीईटी परीक्षा ली जाती थी. इस बार बीटेक और बीएससी के फर्स्ट ईयर के लिए सीईटी लागू की गई है.

परीक्षा के निर्धारित समय से आधा घंटा पहले परीक्षार्थियों को परीक्षा हॉल में पहुंचना होगा. इसके बाद किसी भी परीक्षार्थी को हॉल में प्रवेश नहीं दिया जाएगा. मोबाइल फोन, कैल्कुलेटर, गीयर वॉच अथवा किसी भी प्रकार की इलेक्ट्रॉनिक सामग्री परीक्षा हॉल में ले जाने पर प्रतिबंध रहेगा. परीक्षार्थियों को फोटो आईडी के रूप में आधार कार्ड, पैन कार्ड अथवा अन्य कोई दस्तावेज की सक्षम अधिकारी द्वारा अटेस्टेड जेरॉक्स कॉपी साथ ले जाना अनिवार्य है.