Published On : Wed, Dec 10th, 2014

कन्हान : 5 गाँवों को मिलेगा ‘विवाद मुक्त गाँव’ पुरस्कार

 

  • अब तक 16 में से 11 ग्राम पंचायतों को मिली सफलता
  • 22 लाख की निधि समिति के अध्यक्ष, थानेदार, सरपंच के संयुक्त खाते में जमा कराने की माँग

कन्हान (नागपुर)। ‘शाँत से समृद्धि की ओर’ (शांततेतून समृध्दीकडे) की तर्ज पर गाँव में विवाद न हों व दर्ज हुए विवाद व नए विवादों का निपटारा जनसहयोग से निपटाये जाएँ. इस उद्देश्य को साधने के लिए महात्मा गाँधी विवाद मुक्त गाँव समिति कार्यान्वित की गई है. इसके तहत कन्हान थाना क्षेत्र अंतर्गत 5 गाँवों को विवाद मुक्त गाँव पुरस्कार दिए जाने की घोषणा की गई है.

विदित हो कि शाँत द्वारा समृद्धि की ओर बढऩे की दृष्टि से 15 अगस्त 2007 से महात्मा गाँधी विवाद मुक्त गाँव मुहिम प्रारंभ की गई . गाँवों के विवाद, झगड़े गाँव में ही जन सहयोग द्वारा खत्म करने के उद्देश्य लिए प्रत्येक गाँव में महात्मा गाँधी विवाद मुक्त गाँव समिति गठित कर कार्यान्वित की गई . इस मुहिम से जो गाँव विवाद मुक्त हुए उन गाँवों को सरकार की ओर से हर वर्ष पुरस्कार देकर सम्मानित किए जाने से इस अभियान को अच्छा-खासा प्रतिसाद मिला और पुलिस प्रशासन व न्यायालयों पर पड़ रहे बोझ कम करने में सरकार को अच्छी-खासी मदद मिल रही है. इन्हीं में से एक संवेदनशील भाग कन्हान पुलिस स्टेशन अंतर्गत पाँच गाँवों टेकाड़ी, गोंडेगाँव, खंडाळा (घटाटे), केरडी, गागनेर (हिवरा) को 3 सितम्बर 2014 को महात्मा गाँधी विवाद मुक्त गाँव पुरस्कार दिए जाने की घोषणा की गई. 2012-13 में गाँव के विवाद गाँव में ही निपटाये गये. विवाद न हो इसलिए उपाय योजना बनायी गयी. उसके अनुसार गाँव का मूल्यांकन कर टेकाड़ी को 10 लाख, गोंडेगाँव को 4 लाख, खंडाला (घटाटे) को 3 लाख, केरडी को 2 लाख व गागनेर (हिवरा) को 3 लाख रुपये बतौर पुरस्कार दिए जाएंगे. कन्हान पुलिस स्टेशन अंतर्गत आनेवाले पाँच गाँवों के लिए 22 लाख की निधि मिलेगी.

महात्मा गाँधी विवाद मुक्त गाँव पुरस्कार प्राप्त करने के लिए टेकाड़ी गाँव के विवाद मुक्ति के अध्यक्ष राजाराम यादव, थानेदार पुंडलिक कुरडकर, सरपंच जितेन्द्र चव्हाण, उपसरपंच सुनीता मेश्राम, सचिव निशाने, प्रभाकर बोराडे, गोंडगाँव के अध्यक्ष अरविंद गजभिये, सरपंच सुरेखा शिंगणे, उपसरपंच दिनेश रंगारी, सचिव रत्नाकर पालादूरकर, उपसभापति जिवलग पाटील, खंडाला के अध्यक्ष नवरंग वानखेड़े, सरपंच महादेव गावंडे, उपसरपंच कांताबाई चवरे, ग्रामसेवक उदय चांदूरकर केरडी के अध्यक्ष कवड़ूजी वानखेड़े, थानेदार देवाजी भोयर, सरपंच प्रकाश पडोले, उपसरपंच लक्ष्मण खंडाल, ग्राम सेवक जगदीश वडस्कर, गागनेर के अध्यक्ष श्रीधर चिंचुरकर, थानेदार ईश्वर राऊत, सरपंच चंद्रकलाबाई राऊत, उपसरपंच प्रकाश कुथे, ग्रामसेवक देवेन्द्र जुवारे कन्हान पुलिस स्टेशन के तत्कालीन थानेदार अशोक बागुल, हे.कां. नामदेव धांडे, सुनील फाये, शिवाजी हिंगे, विजय बाराई, बाबापोषक मेश्राम महिला सिपाही प्रिया पाल आदि ने इसमें महत्वपूर्ण भूमिका निभाई . कन्हान पुलिस स्टेशन के माध्यम से बहुतेक गाँव में मार्गदर्शन शिविर आयोजित कर विवाद मुक्ति विषय पर मार्गदर्शन किया . इससे इन पाँच ग्राम पंचायतों को विवाद मुक्त गाँव पुरस्कार घोषित किया गया . कन्हान पुलिस स्टेशन अंतर्गत कुल 16 ग्राम पंचायत के 30 गाँव हैं, जिनमें से अब तक 11 ग्राम पंचायतों के गाँवों को विवाद मुक्त पुरस्कार दिया जा चुका है .

महात्मा गाँधी विवाद मुक्त मुहिम अंतर्गत मिलने वाली पुरस्कार राशि सरपंच व सचिव के बैंक खाते में जमा होने से विवाद मुक्त समिति को पुरस्कार निधि खर्च करने में अड़चनें हो रही हैं . इसलिए यह पुरस्कार की निधि अब विवाद मुक्ति समिति के अध्यक्ष व थानेदार और सरपंच के संयुक्त बैंक खाते में जमा करने की माँग की जा रही है.
Vivad Mukt Village