Published On : Tue, Jul 4th, 2017

सेतु कार्यालय के माध्यम से 27 हजार 932 को घर पर मिले प्रमाणपत्र

Setu Office
नागपुर:
 दसवीं और बारवीं के रिजल्ट आने के बाद विभिन्न प्रमाणपत्रों के लिए जिलाधिकारी कार्यालय स्थित सेतु में विद्यार्थियों की भीड़ कम करने के उद्देश्य से प्रशासन द्वारा विभिन्न स्कूलों व महाविद्यालयों में विशेष शिबिरो का आयोजन किया गया था. जिसके माध्यम से विद्यार्थियों को घर पहुंच प्रमाणपत्र सेवा उपलब्ध कराकर दी है। जिलाधिकारी सचिन कुर्वे ने विद्यार्थियों की समस्या को ध्यान में रखते हुए यह योजना शुरू की थी. जिसके अंतर्गत फरवरी महीने से जून इन पांच महीनो में 27 हजार 932 विद्यार्थियों को विभिन्न प्रमाणपत्र पोस्ट द्वारा उनके घर भेजे गए. पोस्ट द्वारा घरपहुंच प्रमाणपत्र पहुंचाने के मामले में नागपुर राज्य में यह पहला शहर है. जिसे काफी सफल माना जा रहा है. सेतु केंद्र में विभिन्न प्रमाणपत्र बनाने के लिए बड़े प्रमाण में भीड़ होती है. जिसके कारण स्कूल और महाविद्यालय में तीन दिनों का शिबिर आयोजित किया गया था.

इस शिबिर में 8 हजार 940 विद्यार्थियों ने विभिन्न प्रमाणपत्र के लिए आवेदन किये थे. इसमें शपथपत्र के लिए 4 हजार 347 ,इनकम प्रमाणपत्र के लिए 1 हजार 971, जाति प्रमाणपत्रो के लिए 801, नॉन क्रिमीलिएर के लिए 775, तो वही रहवासी और राष्ट्रीयत्व प्रमाणपत्रों के लिए 1 हजार 46 आवेदन प्राप्त हुए थे. सभी आवेदनकर्ताओ को पोस्टद्वारा उनके घर प्रमाणपत्र भेजे गए है.

सेतु केंद्र में नागरिकों को आवश्यक प्रमाणपत्र उपलब्ध हो इसके लिए 22 काउंटर शुरू किये गए है. सेतु केंद्र में इस समय रोजाना प्रमाणपत्रो के लिए 1 हजार 200 से लेकर डेढ़ हजार आवेदन प्राप्त हो रहे है. आवेदन की जांच करने हेतु पांच काउंटर शुरू किए गए है. जिसमे दो काउंटर पर शुल्क स्वीकारे जा रहे है. तो वही आठ काउंटर पर आवेदन स्वीकार किए जा रहे है. इनकम के लिए अलग से व्यवस्था की गयी है. जिससे की नागरिकों को तुरंत इनकम सर्टिफिकेट मुहैया कराया जाए.