Published On : Sat, Mar 28th, 2015

धानोरा : 6 माह में 19 बच्चों की मौत


धानोरा (गड़चिरोली)
। गड़चिरोली के स्पर्श संस्था और पुणे के साथी संस्था ने मिलकर ग्रामपंचायत सभागृह में आयोजित किए तालुका स्तरीय स्वास्थ्य अधिकार जनसंवाद कार्यक्रम में तालुका में बच्चों की मौत समस्या पर चर्चा हुई. इस दौरान कार्यक्रम के अध्यक्ष जिला परिषद सदस्या एस.जी. जांगधुर्वे थी तथा जिला परिषद सदस्या शांता एम परसे, पंचायत समिति की उपसभापति माया मोहुर्ले, तालुका वैद्यकीय अधिकारी डा. बी.एस. धुर्वे, साथी संस्था के विदर्भ समन्वयक राहुल बैस आदि उपस्थित थे.

धानोरा तालुका के प्राथमिक आरोग्य केंद्र रांगी, कारवाफा और मुरुमगांव अंतर्गत आनेवाले विभिन्न गांव के नागरिकों से प्राथमिक आरोग्य केंद्र से मिलने वाली सुविधा के बारे में चर्चा करने के बाद स्पर्श अध्यक्ष डा. दिलीप बारसागडे ने सामने मुद्दे रखे. गत छह महीनों में धानोरा तालुका में 19 बच्चों की मौत हो गई. सबसे अधिक मौत मुरुमगांव प्राथमिक आरोग्य केंद्र अंतर्गत हुई है. इस मुद्दे पर काफी चर्चा हुई.

नागरिकों ने प्राथमिक आरोग्य केंद्र के निवास्थान पर दयनीय अवस्था, जननी सुरक्षा योजना अंतर्गत लाभ नही मिलना, आरोग्य सेवकों की अनुपस्थिति, कम मानधन इस तरह के मुद्दे उठाऐ. इस दौरान आरोग्य केंद्र के वैद्यकीय अधिकारी डा. मडावी, डा. गौशेट्टीवार और डा. राजे आदि ने जवाब दिए. ये जनसंवाद विधी तज्ञ एड. संजय जनबंधु, सामाजिक कार्यकर्ता मनोहर हेपट और काशीनाथ देवगडे की देखरेख में किया. कार्यक्रम का संचालन किरण कांबले ने किया तथा राजेश शंभरकर ने प्रास्ताविक वहीं भरत घेर ने आभार प्रदर्शन किया. कार्यक्रम को तीन प्राथमिक आरोग्य केंद्र के परिसर के नागरिक अधिक संख्या में उपस्थित थे.
child support