Published On : Mon, Jun 15th, 2020

खाड़ी देशों से गोंदिया लौटे 14 प्रवासी श्रमिक कोरोना पॉजिटिव, एक्टिव केस 17

वतन लौट रहे कई श्रमिक अपने बीमारी का इतिहास छिपा रहे?

गोंदिया: खाड़ी देशों से लौटने वाले प्रवासी भारतीय श्रमिकों की वजह से गोंदिया जिले की मुश्किलें बढ़ रही है। 15 जून सोमवार को भी 14 नए मामले सामने आए और यह सभी दुबई तथा खाड़ी देशों से तिरोड़ा तहसील में आने वाले लोग है। इससे भी ज्यादा परेशानी की बात यह है कि, गल्फ कंट्री से अपने वतन लौट रहे इन प्रवासी मजदूरों में कई श्रमिक अपनी बीमारी का इतिहास छिपा रहे है।

पिछले 4 दिनों में 17 पॉजिटिव मामले सामने आए और यह सभी खाड़ी देश ओमान, कुवैत, कतर, आबू धाबी, सऊदी, दुबई जैसे देशों से लौटे है।
इनके लौटने की शुरूवात से पहले तक गोंदिया में एक भी कोरोना का एक्टिव केस नहीं था।

3 दिनों में लगातार 3 मामले सामने आने के बाद आज 14 की रिपोर्ट पॉजिटिव आने से हड़कंप मचा हुआ है।

जानकारों की मानें तो एैसी कई शिकायतें मिली है कि, भारत लौटने वाले बहुत से श्रमिक पैरासिटामोल खा रहे है ताकि वे एयरपोर्ट पर थर्मल स्क्रीनिंग से बच सकें। गौरतलब है कि, भारत सरकार ने विदेशों में फंसे भारतीयों को वापस अपने वतन लाने के लिए ‘वंदे मातरम मिशन’ शुरू किया है और अब कई देशों से जिले में लोग लौट रहे है।

सनद रहे, जिले में 26 मार्च को पाए गए पहले पॉजिटिव के ठीक होकर घर लौटने के बाद 19 मई से लेकर 2 जून की अवधि तक कुल 69 जिले में कोरोना के संक्रमित थे।

3 जून से लेकर 11 जून के दरमियान एक भी नया केस सामने नहीं आया लेकिन 12 जून को 1, 13 जून को 1, 14 जून को 1 तथा आज सोमवार 15 जून को 14 केस सामने के बाद संक्रमितों की संख्या बढ़कर 86 पर पहुंच गई है, इनमें 69 ठीक होकर घर लौट चुके है तथा वर्तमान में कोरोना के 17 एक्टिव है।

कोरोना संक्रमण के तहत जिले के संदिग्ध व्यक्तियों के स्बैव नमूने लेकर गोंदिया स्थित वॉयरोलॉजी प्रयोगशाला के परीक्षण केंद्र में जांच की जा रही है, यहां 62 नमूनों की रिपोर्ट प्रलंबित है तथा आज जो 14 पॉजिटिव पाए गए है , उन सबकी उम्र 25 से 45 वर्ष के आसपास है।
स्वास्थ्य सुरक्षा की दृष्टि से जिले के विभिन्न स्कूलों और संस्थानों में 2228 तथा घर पर 1548 लोगों को क्वारंटाइन किया गया है, एैसी जानकारी जिला स्वास्थ्य विभाग द्वारा दी गई है।

रवि आर्य