Published On : Fri, Apr 10th, 2015

अमरावती : शत प्रतिशत बंद रहा सराफा


पैन की अनिवार्यता का विरोध

10 Sarafa
अमरावती।
केंद्र सरकार द्वारा 1 लाख रुपए से अधिक का सोना-चांदी खरीदी करने पर ग्राहकों को पैन कार्ड की अनिवार्यता के खिलाफ सराफा एसोसिएशन ने शुक्रवार को सराफा बंद रखा. प्रत्येक सराफा व्यवसायी ने बंद के समर्थन में स्वंयस्फूर्ति से दूकानें बंद रखी. पूरे सराफा की कुल 400 से अधिक दूकान बंद रखी गई. जिससे लगभग 20 करोड़ से अधिक का व्यापार प्रभावित हुआ. अमरावती जिला स्वर्णकार संघ व सराफा व्यापारी एसोसिएशन के बैनर तले शुक्रवार को सभी व्यापारी सराफा बाजार में इकठ्ठा हुए. यहां से सभी जिलाधिकारी कार्यालय पहुंचे. कलेक्टर किरण गित्ते को ज्ञापन देकर केंद्र व राज्य सरकार व्दारा ग्राहकों को पैनकार्ड की अनिवार्यता का विरोध जताया.

इस समय सराफा व्यापारी असो.के अध्यक्ष नवरतनमल गांधी, सचिव अविनाश चुटके, सुवर्णकार संघ के अध्यक्ष राजु उजैनकर, सचिव दत्ता हरमकर, सुनील मरोडकर, राजेंद्र खडेकर, मिलींद गुंबले, विकास पंचवटे, अंबादास मानेकर, मधुकर काटोले, जनार्दन गोमेकर, गजानन शेलोकार, श्यामपंत मानेकर, अजय तिनखेडे, सुरेश करुले, बालासाहेब विंचुरकर, चंद्रकांत चेडे, गणेश मरोडकर, अजय दाभाडे, सचिन भेरडे, उमेश मारुलकर, नितीन हेगु, राजेश अनासाने, प्रवीण तारेकर, किरण विंचुरकर, बंडुपंत ठोसर, विश्वजीत डुमरे, राजु गुंबले समेत अन्य थे.