Published On : Fri, May 2nd, 2014

सावली : तालुके मे बिक रही रासायनिक पावडरयुक्त ताड़ी


लोगों के स्वास्थ्य से खिलवाड़ ; अन्न व औषधी विभाग की अनदेखी

सावली

tadi
सावली तालुके में पावडरयुक्त ताडी की बिक्री ज़ोरो से शुरु है. इससे स्वास्थ पर बुरा असर पड़ने का खतरा होने के कारण इस तरह की ताड़ी बिक्री करने वाले दुकानदारों पर कार्यवाही की मांग नागरिकों की ओर से की जा रही है.

लोग इस तपती गर्मी में थोड़ी ठंडक पाने के लिये शीतपेयों का सहारा लेते हैं. लस्सी,कोल्ड्रिंक्स,ज्यूस इन शीतपेयों का सहारा लोग लेते हैं. लेकिन ग्रामीण भागों में ताडी क़ी माँग आज भी है और इसलिए ग्रामीण भागों में ताडी क़ी बिक्रि बडी मात्रा में की जाती है. खासकर गर्मी के मौसम मे ताड़ी की मांग ज्यादा होती है. मांग ज्यादा होने से दुकानदार ज्यादा फायदा कमाने के लिये ताड़ी में कीटनाशक पावडर मिलाकर बचने की बात सामने आ रही है. इससे ताड़ी पिने वालों क़ी जान को ख़तरा है लेकिन अन्न व औषधी विभाग या पुलिस विभाग का इस ओर कदापी ध्यान नही है.

सुबह शाम ताड़ी दुकान मे ताडी के शौकिनों की भिड़ जमा होती है. परिसर में ताड़ी के 60 से 70 पेड़ हैं. एक पेड़ से 600 ग्राम से 1 लीटर ताड़ी का रस निकलता है लेकिन बिक्री 600 से 700 लीटर तक हो रही है. सवाल ये है की ये इतनी बडी मात्रा मे ताड़ी आ कहां से रही है. इसलिए जांच कर ताड़ी बिक्री करने वाले दुकानदारों पर कार्यवाही की मांग नागरिकों की ओर से की जा रही है.