Published On : Mon, Apr 28th, 2014

सालेककसा : चिकित्सक नहीं, इसलिए एंबुलेंस नहीं


सालेककसा

“108 नंबर डायल करो, 20 मिनट में एंबुलेंस उपलब्ध हो जाएगी चिकित्सक समेत.” स्वास्थ्य विभाग का यह दावा प्रारंभ में ही यहां खोखला साबित हुआ है. सालेकसा में यह सेवा अब तक उपलब्ध नहीं है.

Advertisement

बताया जा रहा है कि सालेकसा के लिए स्वास्थ्य विभाग की ओर से भेजी गई अत्याधुनिक स्वास्थ्य सुविधा वाली एंबुलेंस केटीएस जिला अस्पताल में पड़ी हुई है. 108 नंबर डायल करने पर तत्काल स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराने की घोषणा राज्य शासन ने की थी. इस योजना के तहत जिले को हाल ही में 10 एंबुलेंस उपलब्ध कराई गई है. इनमें से एक-एक एम्बुलेंस सभी ग्रामीण अस्पतालों को भेजने के निर्देश दिए गए थे. सालेकसा में यह एंबुलेंस भेजा ही नहीं गया है. कहा जा रहा है कि एंबुलेंस के लिए 24 घंटे चिकित्सक चाहिए. सालेकसा तहसील में अत्याधुनिक सुविधा वाली एम्बुलेंस के लिए सिर्फ एक चिकित्सक का पद भरा गया है. यहां दो पद और भरे जाने चाहिए, तब ही यह सेवा 24 घंटे उपलब्ध रह सकेगी. इसी बात को ध्यान में रखते हुए उक्त एंबुलेंस सालेकसा भेजा ही नहीं गया है.

Advertisement

कहा जाता है कि एंबुलेंस में जो सुविधा उपलब्ध कराई गई है, उसमें बीपी जांच, पल्स जांच, डायबिटीज की जांच एवं अन्य उपकरण लगे हुए हैं.जिला स्वास्थ्य सूत्रों के अनुसार, चिकित्सक की व्यवस्था हो जाने पर ही उक्त सुविधायुक्त स्वास्थ्य सेवा के साथ एम्बुलेंस निकट के सरकारी अस्पताल में मरीजों को जल्द पहुंचाने के काम आ सकती है. केटीएस अस्पताल में बेवजह धूल खाते हुए यह अत्याधुनिक एंबुलेंस पड़ा है.

Advertisement
Representational Pic

Representational Pic

Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement