Published On : Thu, Jul 9th, 2015

यवतमाल : पुलिस कस्टडी में मारपीट से आरोपी की मौत

IMG-20150710-WA0003
यवतमाल
पुलिस कस्टडी में मारपीट से यवतमाल के विजय घुटके की मौत हो गई. उसके परिजनों ने पुलिस पर टार्चर का आरोप लगाया है. साथ ही मामले छानबीन करने की मांग भी की है.
प्राप्त जानकारी के अनुसार, वडगांव पुलिस थाना क्षेत्र में आनेवाले डॉक्टर राषतवार के मकान में 25जून को हुई चोरी हुई. इस मामले में आरोपी विजय घुटके को एस.डी.पी.ओ. की टीम ने जाँच के लिए हिरासत में लिया था. मृतकों के परिजनों का कहना है कि, कस्टडी में उसे ज़ोरदार मारपीट और टॉर्चर के चलते उसकी हालत गंभीर हो चुकी थी. इसी हालत में विजय को जमानत पर रिहा कर दिया गया. जिसके बाद वो अपने ससुराल अमरावती चला गया. लेकिन 9 जुलाई की दोपहर को उसकी मौत हो गई. आरोपी के शरीर पर मारपीट और करंट जैसे निशान पाये गए है.
मौत के बाद संतप्त परिजनों ने अमरावती से उसका शव यवतमाल जिल्हाधिकारी कार्यालय में रवाना कर जिहाधिकारी और पुलिस अधीक्षक से न्याय की गुहार लगाई। इस दौरान परिजनों ने पुलिस पर आरोप लगाया कि, उन्होंने मृतक को टॉर्चर किया जिससे उसकी मौत हो गई. साथ ही इस मामले की उच्चस्तरीय जाँच और दोषी पुलिसवालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की गई. इस घटना के बाद किसी भी तरह के अनुचित मामले से निबटने के लिए जिलाधिकारी कार्यालय परिसर में तगड़ा पुलिस बंदोबस्त लगा दिया गया था.
हालांकि 5 बजे तक आरोपी का शव यवतमाल नहीं पहुंचा था. इसी बीच इस मामले की गंभीरता को देखते हुए जिलाधिकारी सचिंद्र प्रतापसिंग और जिला पुलिस अधीक्षक अखिलेश सिंग ने दोपहर में संबंधित जांचकर्ता अधिकारियों से मामले का जायजा लिया। आरोपी के मौत के बाद मामले की डिपार्टमेंटल जाँच के आदेश जारी किये गए. बताया जाता है कि, मौत से पूर्व इस आरोपी को स्थानीय पुलिस अपराध शाखा की मदद से एस.डी.पी.ओ. के मार्गदर्शन में जाँच के लिए हिरासत में लिया था.