Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!

    Nagpur City No 1 eNewspaper : Nagpur Today

    | | Contact: 8407908145 |
    Published On : Sat, Oct 17th, 2020
    nagpurhindinews | By Nagpur Today Nagpur News

    महाराष्ट्र-कर्नाटक में बाढ़ से बिगड़े हालात, गुजरात में भारी बारिश का अलर्ट

    महाराष्ट्र और कर्नाटक में भारी बारिश और बाढ़ से हालात काफी गंभीर हैं. एक तरफ जहां कर्नाटक में लगातार हो रही बारिश के बीच प्रमुख बांधों का पानी छोड़े जाने से बाढ़ की स्थिति पैदा हो गई है तो वहीं महाराष्ट्र में मूसलाधार बारिश के बाद आई बाढ़ के कारण कई लोगों की मौत हो गई है. राज्य में मौसम की मार से किसानों को काफी नुकसान हुआ है. लाखों हेक्टेयर भूमि में बड़े पैमाने पर फसल बर्बाद हो गई है.

    उत्तर कर्नाटक में पिछले तीन महीने में तीसरी बार बाढ़ आई है. इस क्षेत्र के बेलगावी, कलबुर्गी, रायचुर, यादगिर, कोप्पल, गोदाग, धारवाड़, बागलकोट, विजयपुरा और हावेरी इलाके सबसे अधिक प्रभावित हुए हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को भारी बारिश से प्रभावित महाराष्ट्र और कर्नाटक राज्य के मुख्यमंत्रियों से बात की और उन्हें राहत व बचाव कार्य में हरसंभव मदद का आश्वासन दिया.

    बता दें कि बारिश से जुड़ी घटनाओं में महाराष्ट्र में अब तक कई लोगों की मौत हो चुकी है जबकि कर्नाटक के अनेक हिस्सों में लगातार बारिश और प्रमुख बांधों से पानी छोड़े जाने के कारण बाढ़ से हालात गंभीर हो गए हैं.

    महाराष्ट्र में बाढ़ से फसलों को हुआ बड़ा नुकसान
    भारी बारिश और बाढ़ से महाराष्ट्र में लाखों हेक्टयर क्षेत्र में बड़े पैमाने पर फसल बर्बाद हो गई है. पुणे, सोलापुर, सतारा और सांगली जिलों में गन्ना, सोयाबीन, सब्जियों, चावल, अनार और कपास जैसी फसलों को नुकसान हुआ है. इसके अलावा सोलापुर, सांगली, सतारा और पुणे जिलों में भारी बारिश और बाढ़ में कई सौ मकान क्षतिग्रस्त हो गए तथा 100 से अधिक झुग्गियां नष्ट हो गई हैं. सोलापुर, सांगली, सतारा और पुणे जिले के लोगों को सुरक्षित स्थानों पर ले जाया गया है.

    गुजरात में भारी बारिश की संभावना
    मौसम विभाग (IMD) ने अगले पांच दिनों में गुजरात के कई हिस्सों में बारिश होने की संभावना जताई है. भारतीय मौसम विभाग के गुजरात के निदेशक जयंत सरकार के बताया कि अरब सागर में एक वेलमार्क लो प्रेशर सक्रिय हुआ है. जिसके कारण दक्षिण गुजरात, सौराष्ट्र में भारी बारिश होने की आशंका है. ऐसे में मछुआरों को समुद्र में ना जाने की सलाह दी गई है. बंदरगाहों पर 3 नंबर का संकेत लागू कर दिया गया है. राज्य में भारी बारिश के अनुमान के बाद किसान चिंतित हैं.

    मौसम विभाग के अनुसार शुक्रवार से पांच दिनों के लिए दक्षिण गुजरात, सौराष्ट्र और कच्छ में बारिश की संभावना है. दक्षिण गुजरात में विशेष रूप से डांग, नवसारी, वलसाड, दमण और दादरा नगर हवेली में भारी से बहुत भारी बारिश की आशंका है.

    मौसम विभाग के अनुसार 17 अक्टूबर को पाटन, महेसाणा, अमरेली, भावनगर, गीर सोमनाथ, जूनागढ़, पोरबंदर, कच्छ, दीव में हल्की से मध्यम बारिश की संभावना है. जबकि डांग, नवसारी, वलसाड, दमण, दादरा नगर हवेली में भारी बारिश हो सकती है.

    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145